टी एंड सी | गोपनीयता पालिसी

संचालित द्वारा Publive

Migraine Reasons & Symptoms: महिलाओं में माइग्रेन के कारण और लक्षण

Migraine Reasons & Symptoms: महिलाओं में माइग्रेन के कारण और लक्षण
Swati Bundela

22 Jun 2022

पुरुषों की तुलना में महिलाएं माइग्रेन की समस्या से अधिक ग्रसित होती हैं। अमेरिका के हार्वर्ड टी.एच. चान स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ में हुए अध्ययन के मुताबिक, माइग्रेन से पीड़ित महिलाओं में हृदय संबंधी समस्याएं बढ़ने का खतरा ज्यादा रहता है। इस अध्ययन के अनुसार जिन महिलाओं को माइग्रेन की शिकायत रहती है, उन्हें हार्ट अटैक, ब्रेन स्ट्रोक और छाती में दर्द का खतरा काफी ज्यादा रहता है। आइए जाने माइग्रेन की समस्या के कारण और इसके लक्षण के बारे में-

माइग्रेन के लक्षण - 

* आधे सर में दर्द बना रहना माइग्रेन का प्रमुख लक्षण है।

* 2 से 72 घंटे तक लगातार माइग्रेन की शिकायत होती है।

* खाना पीना अच्छा ना लगना इत्यादि माइग्रेन के लक्षण हो सकते हैं।

* आवाज सुनने से चिड़पन महसूस होना।

* रोशनी में परेशानी और सर में भयानक चुभन।

माइग्रेन के प्रमुख कारण -

* अनियमित दिनचर्या, गलत आदतें, तनावपूर्ण जीवन, खानपान की गलत आदतें, धूम्रपान, अधिक परफ्यूम यूज करना, बहुत ज्यादा या कम नींद लेना। माइग्रेन के सबसे प्रमुख कारण होते हैं।

* इसके अलावा सिर पर चोट लगना, हार्मोनल बदलाव, आंखों पर तेज रोशनी आना, एक्सरसाइज ना करना भी माइग्रेन होने के कारण हो सकते हैं।
  
* अगर आप अधिक ठंड और गर्म की चीजें एक साथ खाते हैं, तब भी आपको माइग्रेन की समस्या हो सकती है। सर्दियों में ज्यादा देर तक धूप में बैठने वालों को भी माइग्रेन हो सकता है।

* महिलाओं को माइग्रेन होने का सबसे बड़ा कारण शरीर में एस्ट्रोजन की कमी मानी गई है। पीरियड्स के दौरान महिलाओं के शरीर में कई हार्मोनल बदलाव होते हैं, जिसकी वजह से माइग्रेन की शिकायत हो सकती है। सिर दर्द की समस्याएं महिलाओं को पीरियड्स शुरू होने से दो दिन पहले और तीन दिन बाद तक रह सकती है। इस दौरान महिलाओं को चिड़चिड़ापन, थकान, भूख ना लगना, पीठ और कमर में दर्द इत्यादि समस्याएं होती हैं।

* अक्सर महिलाएं अपने घर के कामकाज की वजह से सुबह का नाश्ता स्किप कर देती हैं। ऐसी महिलाओं को माइग्रेन की शिकायत काफी ज्यादा होती है। कभी भी सुबह का नाश्ता स्किप ना करें। यह आपको शारीरिक रूप से कमजोर बना सकता है 

* अनचाहे गर्भ से छुटकारा पाने के लिए कुछ महिलाएं डॉक्टर के सलाह के बगैर गर्भनिरोधक गोलियां खाने लगती हैं। इस वजह से भी कुछ महिलाओं को माइग्रेन की शिकायत हो सकती है। अगर आप भी गर्भनिरोधक की गोलियां डॉक्टर के सलाह बगैर ले रही हैं, तो एक बार डॉक्टर्स से संपर्क करें। वरना यह आपकी मुश्किलें बढ़ा सकती है। ऐसा करने से माइग्रेन के अलावा आपको कई अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं।

अनुशंसित लेख