Urinary Tract Infection(UTI) : महिलाओं में होने वाली आम समस्या

Swati Bundela
14 Sep 2022
Urinary Tract Infection(UTI) : महिलाओं में होने वाली आम समस्या

यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन या पेशाब में संक्रमण महिलाओं को होने वाली आम समस्या है। यह महिला पुरुष या बच्चों किसी को भी हो सकती है लेकिन अक्सर महिलाएं इससे ज्यादा परेशान रहती है। यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन बैक्टेरिया 'इ.कोली' के कारण होने वाली समस्या है। आँकड़ों की माने तो भारत में लगभग 50 फीसदी महिलाएं यूटीआई से पीड़ित होती हैं। इसका एक कारण अस्वच्छ शौचालयों का इस्तेमाल करना भी है। इससे बचाव के लिए स्वच्छता का बहुत ध्यान रखना होता है।

आइए जानते है युटीआई के लक्षण और इससे बचाव के उपाय के बारे में -

यूटीआई के लक्षण :

• पेशाब में जलन महसूस करना
• बार-बार पेशाब जाना लेकिन पेशाब का पूरा ना निकलना
• पेट में दर्द महसूस करना
• पेशाब में खून का आना 
• पेशाब के रंग में बदलाव होना और बदबू का आना
• बेचैनी होना
• बुखार होना

यूटीआई से बचाव के लिए यह उपाय अपनाएं:

• अधिक मात्रा में पानी पिएं। एक दिन में 8 से 10 गिलास तक पानी पिएं। ज्यादा पानी पीने से बैक्टीरिया पेशाब के रास्ते बाहर निकल जाता है। 
• अस्वच्छ शौचालयों का प्रयोग न करें। पब्लिक शौचालयों का प्रयोग करते समय सैनीटाइजर का इस्तेमाल करें। 
• शारीरिक संबंध बनाने के बाद पेशाब अवश्य करें।
• ज्यादा देर तक पेशाब को रोक कर न रखें। इससे आपके किड़नियों पर गलत प्रभाव पड़ता है।
• पीरियड्स के दौरान स्वच्छता का खास ख्याल रखें। इस दौरान नियमित रूप से पैड़ बदलते रहें।
• अगर आपको शुगर की समस्या है तो आप अपना शुगर बैलेंस रखें।
• मीठी चीजों का सेवन ना करे।
• शराब और कैफीन का सेवन न करे यह जलन की समस्या में बढ़ोतरी करता है। 
• सिरका या क्रेनबरी जूस पिए, यह बैक्टीरिया के विकास को रोकने में मददगार होता है।
• खट्टे फलों का अधिक सेवन करने से भी यूटीआई में आराम मिलता है। जैसे संतरा, मौसमी आदि।

यदि आपकी समस्या लंबे समय तक बनी रहती है तो अपने डॉक्टर से अवश्य परामर्श करें।

अनुशंसित लेख