Vitamin B Deficiency: इस विटामिन की कमी के कारण होता है नसों में दर्द

Swati Bundela
17 Oct 2022
Vitamin B Deficiency: इस विटामिन की कमी के कारण होता है नसों में दर्द

नसें हमारे शरीर का बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है। आमतौर पर लोगों को शिकायत रहती है कि उनको नसों में दर्द हो रहा है। अक्सर नसों में दर्द की समस्या इसलिए होती है क्योंकि नसों में ब्लड सरकुलेशन या ब्लड फ्लो ठीक से नहीं हो पाता है। कई बार नसों पर वजन पढ़ने से और दब जाने से भी समस्या उत्पन्न होती है। इस कारण खून एक जगह इकट्ठा होता रहता है और नसों में ब्लॉकेज हो जाता है। इसलिए नसों का ख्याल रखना भी बेहद जरूरी है। क्योंकि अगर हमारी नसें ही स्वस्थ नहीं होंगी तो हमारे मस्तिष्क तक सही संदेश नहीं पहुंच पाता है। नसों को स्वस्थ बनाए रखने के लिए अपने आहार को भी ठीक करना जरूरी होता है। आइए जानते हैं कुछ ऐसे विटामिन के बारे में जिसकी कमी अगर आपके शरीर में हो जाती है तो उस कारण आपकी नसों में दर्द होता है।

विटामिन B की कमी है जिम्मेदार

अगर आपके शरीर में विटामिन बी की कमी हो जाती है तो इस कारण आप की नसों में दर्द की समस्या होती है। अगर शरीर में एक लंबे समय तक विटामिन-बी की कमी बनी रहती है तो यह नर्व डैमेज का कारण बन सकती है खासकर विटामिन-B6 और विटामिन-B12 की कमी। ऐसा इसलिए क्योंकि यह विटामिंस नर्व पर एक सुरक्षात्मक परत बनाते हैं । इसके साथ ही विटामिन-बी नर्व टिश्यू को बनाकर हमारे नर्व फंक्शन को बेहतर बनाने का काम करता हैं। अगर आप पर्याप्त मात्रा में यह विटामिन लेते हैं तो इससे आपके दर्द और सूजन की समस्या में राहत मिलती है। साथ ही इस विटामिन की पूर्ति होने से डायबिटिक न्यूरोपैथी के इलाज में भी सहायता मिलती है।

विटामिन-B की कमी दूर करने के लिए खाएं यह सब

विटामिन-बी की कमी पूरा करने के लिए आप इससे भरपूर खाद्य पदार्थ का सेवन करें। जैसे कि डेयरी के प्रोडक्ट्स दूध, दही, छाछ, पनीर आदि। इसके अलावा अंडा, चिकन, गाजर, शकरकंद, छोले, पालक, एवोकाडो, केले, गाजर, सैल्मन, टूना मछली आदि का भरपूर मात्रा में सेवन करें और इन सभी खाद्य पदार्थों को अपनी रोजाना की डाइट में शामिल करें।

ध्यान दें कि विटामिन-बी की कमी को पूरा करने के लिए आप बाहर से सप्लीमेंट्स भी ले सकते हैं। लेकिन बिना अपने डॉक्टर से परामर्श किए यह सप्लीमेंट्स ना ले। इसके साथ ही अगर आपको नसों में असहनीय दर्द और सूजन महसूस होती है तब भी आप जल्द से जल्द अपने डॉक्टर से परामर्श कर इसका कारण जानें। 

अनुशंसित लेख
नवीनतम कहानियां