Causes of Oily Skin: ऑयली स्किन के कारण और निजात के टिप्स

Causes of Oily Skin: ऑयली स्किन के कारण और निजात के टिप्स Causes of Oily Skin: ऑयली स्किन के कारण और निजात के टिप्स

Monika Pundir

20 Jun 2022

ऑयली स्किन लोगों को पसंद नहीं, क्योंकि अक्सर ऑयली स्किन को एक्ने और पिम्पल्स से जोड़ा जाता है। त्वचा से तेल प्रोडक्शन अछि बात है, और सेबेसियस ग्लैंड के काम के वजह से होती है। समस्या है अतिरिक्त ऑयल प्रोडक्शन। आपको ऑयली स्किन से निजात पाने के लिए पहले उसकी वजह तक पहुचनी होगी। इस ब्लॉग में हम ऑयली स्किन के संभव कारणों के बारे में बताएं:

ऑयली स्किन के कारण:  

1. जेनेटिक्स 

तैलीय त्वचा परिवारों में चलती है। यदि आपके माता-पिता में से किसी एक की त्वचा तैलीय है, तो आपके भी एक्टिव सेबेसियस ग्लैंड्स होने की संभावना है।

2. आप कहां रहते हैं और साल का समय

गर्म, शुष्क मौसम में लोगों की त्वचा अधिक तैलीय होती है। गर्मियों के दौरान आपकी त्वचा पर सर्दियों की तुलना में अधिक तेल होने की संभावना होती है। ऑयली स्किन के कारण अपने रहने के लोकेशन को बदलना तो संभव नहीं, पर आप अपनी रूटीन ज़रूर बदल सकते हैं। कोशिश करें की आप घर, ऑफिस, आदि के बिल्डिंग के अंदर रहें और धूप से दूर।

आप टिशू या ब्लॉटिंग पेपर से अपने चेहरे पर टैपिंग मोशन से तेल को कम कर सकते हैं। ज़्यादा ज़ोर मत लगिएगा, स्किन टेअर होने के कारण पिम्पल होने की संभावना बढ़ जाती है।

3. बढ़े हुए पोर्स

कभी-कभी उम्र, वजन में उतार-चढ़ाव और पिछले ब्रेकआउट के कारण आपके पोर्स फैल सकते हैं। बड़े पोर्स भी अधिक तेल उत्पन्न करते हैं।

आप अपने पोर्स को सिकोड़ नहीं सकते हैं, लेकिन आप दिन भर बढ़े हुए छिद्रों के साथ अपने चेहरे के क्षेत्रों को ब्लॉट करने के लिए अतिरिक्त सावधानी बरत सकते हैं।

4. गलत स्किन प्रोडक्ट्स 

गलत स्किन प्रोडक्ट्स का उपयोग करना आपकी त्वचा को ऑयली बना सकता है। हर स्किन टाइप पर हर प्रोडक्ट काम नहीं करता है, इसलिए आपको अपनी स्किन टाइप के लिए उपयुक्त प्रोडक्ट्स के लिए रिस्क करनी होगी। यह मेकअप हो या कोई नाइट क्रीम, वह किस स्किन टाइप के लिए उपयुक्त है, ज़रूर पढ़ें।

सही त्वचा देखभाल उत्पादों का उपयोग करने से आपके चेहरे पर बचे तेल की मात्रा में भारी अंतर आ सकता है।

5. गलत स्किन केयर रूटीन 

अपना चेहरा धोना या बहुत बार एक्सफोलिएट करना आपकी त्वचा को तैलीय बना सकता है। यह एक अजीब लग सकता है, क्योंकि धोने और एक्सफोलिएट करने का उद्देश्य तेल से छुटकारा पाना है।

लेकिन अगर आप ऐसा अक्सर करते हैं, तो आप अपनी त्वचा से बहुत अधिक तेल निकाल देते हैं। यह आपकी सेबेशियस ग्लांड्स को इमरजेंसी मोड में जाने का कारण बन सकता है, जहां वे नुकसान के लिए और भी अधिक तेल का उत्पादन करते हैं।

अतिरिक्त तेल को दूर रखने के लिए आपको केवल अपनी त्वचा को दिन में दो बार धोना होगा।

6. अपने मॉइस्चराइजर को छोड़ना

यह एक मिथक है कि मॉइस्चराइजर तैलीय त्वचा का कारण बनता है। वास्तव में, यदि आप सैलिसिलिक एसिड या बेंज़ॉयल पेरोक्साइड जैसे एक्ने उपचार का उपयोग कर रहे हैं, तो आपको निश्चित रूप से अपनी त्वचा को सूखने से बचाने के लिए एक अच्छे मॉइस्चराइज़र की आवश्यकता होती है। मॉइस्चराइजर के बिना, किसी भी प्रकार की त्वचा सूख जाएगी।

इसलिए मॉइस्चराइजर छोड़ने के बजाय, सही प्रकार का मॉइस्चराइज़र ढूंढना महत्वपूर्ण है। हल्के, पानी आधारित मॉइस्चराइज़र तैलीय त्वचा के लिए अच्छा काम करते हैं। क्लींजिंग और टोनिंग के बाद इसे हमेशा अपना आखिरी स्टेप बनाए। 

अनुशंसित लेख