Advertisment

पांच सर्वश्रेष्ठ भारतीय महिला ओलंपियन

महिलाएं हर क्षेत्र में अपना नाम रोशन कर रहे हैं और स्वतंत्रता का एक अलग ही मिसाल पेश कर रही हैं I खेल क्षेत्र, शिक्षा क्षेत्र या अन्य क्षेत्र में महिलाएं सबसे उच्चतम स्थान पर है | ओलंपिक में भी महिलाओं ने हमारा नाम रोशन किया है I

author-image
Neha Dixit
New Update
Olympics

Women Olympiads (Image Credits: Canva)

5 Best Women Olympians Of India: महिलाएं हर क्षेत्र में अपना नाम रोशन कर रहे हैं और स्वतंत्रता का एक अलग ही मिसाल पेश कर रही हैं I क्षेत्र, शिक्षा क्षेत्र या अन्य क्षेत्र में महिलाएं सबसे उच्चतम स्थान पर है| ओलंपिक में भी महिलाओं ने हमारा नाम रोशन किया हैI महिलाएं देश-विदेश और हर क्षेत्र में नाम रोशन कर रहे हैं। भारतीय महिलाएं जिन्होंने ओलंपिक में पदक हासिल करके भारत को गर्व महसूस कराया जानते है उनके बारे में-

Advertisment

पांच सर्वश्रेष्ठ भारतीय महिला ओलंपियन 

1. साइना नेहवा

साइना नेहवाल, भारतीय बैडमिंटन के क्षेत्र में अपने उदार प्रदर्शन के लिए एक शानदार नाम हैं और उनके ओलंपिक यात्रा ने देश को गर्वान्वित किया है। साइना नेहवाल का अद्भुत प्रदर्शन 2008 के बिजी में ओलंपिक में देखा गया जहां वह मात्र 18 वर्षीय थी और उन्होंने भारत को स्वर्ण पदक डिकर इतिहास रच दिया I अपने इस अद्भुत प्रदर्शन के पश्चात उन्होंने 2012 के लंदन ओलंपिक और 2016 के रियो ओलंपिक में भी अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखा और भारत जीत दिलाई I 

Advertisment

2. मैरी कॉम

अद्वितीय और प्रतिष्ठित भारतीय बॉक्सर हैं जिन्होंने कई बार भारत को जीत दिलाकर देश का नाम रोशन किया है । मैरी कॉम का सर्वप्रथम और सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2012 के लंदन ओलंपिक में हुआ था जहां उन्होंने बॉक्सिंग में भारत को पहली बार स्वर्ण पदक जिताकर सबको गर्व महसूस कराया। उनकी मेहनत, साहस, हिम्मत, समर्पण, अनुशासन को पूरे देश ने इज्जत से नवाजा I 

3. पीवी सिंधू 

Advertisment

भारतीय बैडमिंटन प्लेयर पीवी सिंधु अपने सर्वश्रेष्ठ और उच्चतम प्रदर्शन के लिए देश-विदेश में जानी जाती हैंI मेहनत अनुशासन और प्रशिक्षण के पश्चात उन्होंने अपना नाम बैडमिंटन की दुनिया में कमाया है और भारत का नाम रोशन किया है । 2016 रियो ओलंपिक में भारतीय महिला सिंगल्स बैडमिंटन में पीवी सिंधु ने स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचा और वह बन गई पहली भारतीय महिला खिलाड़ी जिन्होंने बैडमिंटन में ओलंपिक में स्वर्ण पदक हासिल किया। पीवी सिंधु यही तक नहीं रुकी इसके पश्चात उन्होंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन जारी रखा और 2020 के टोक्यो ओलंपिक में रजत पदक जीतकर भारत को जीत दिलाई। मेहनत, अनुशासन, समर्पण और फिर प्रदर्शन से पीवी सिंधु ने देश-विदेश में अपना नाम रोशन किया|

4. साक्षी मलिक

साक्षी मलिक अद्वितीय भारतीय पहलवान में प्रतिशत है। उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2010 में दिल्ली के ओलंपिक में आया जहां उन्होंने स्वर्ण पदक जीत कर भारत को जीत लाई I साक्षी मलिक ने 2016 रियो ओलंपिक्स में भारत को गौरवान्वित किया। साक्षी मलिक ने 58 किलोग्राम वर्ग में ब्रोंज मेडल जीतने के साथ ही इतिहास रचा और वह बन गई पहली भारतीय महिला खिलाड़ी जिन्होंने पहलवानी में मेडल जीता| साक्षी मलिक की इस जीत के पीछे के संघर्ष मेहनत और समर्पण को पूरे देश का सलामI 

5. मीराबाई चानु

मीराबाई चानू एक अद्वितीय खिलाड़ी जिन्होंने भारत को ओलंपिक मेडल जीतकर गौर भागवत किया। मीराबाई चानु का पहला बड़ा उत्कृष्टता उन्होंने 2014 के कॉमनवेल्थ गेम्स में दिखाया था, जहां उन्होंने स्वर्ण पदक जीता और देश का नाम रोशन किया। इसके पश्चात, उन्होंने एशियाई खेलों में भी कई मेडल्स जीते, जिसने उनकी वजनदाता क्षमताओं को और भी मजबूती दी।मीराबाई चानू का सबसे अद्भुत प्रदर्शन 2021 टोक्यो ओलंपिक में आया। उन्होंने वहां भारत के लिए रजत पदक जीतकर देश को गर्वित किया। यह मोमेंट इतिहास में एक ऐतिहासिक क्षण बन गया, क्योंकि वह भारतीय महिला वजनदाता थीं जो ओलंपिक में पदक जीतने में सफल हुईं।

ओलंपियन
Advertisment