Dolly Singh Stays Relatable: मुझमें खुद को देख सकते हैं लोग

Dolly Singh Stays Relatable: मुझमें खुद को देख सकते हैं लोग Dolly Singh Stays Relatable: मुझमें खुद को देख सकते हैं लोग

Sanjana

15 Jun 2022

इस फोटो में डॉली सिंह नीली रंग की साड़ी और रिंग झुमकों में अपनी प्यारी सी स्माइल को बिखेरती हुई नजर आ रही हैं। उनकी यही अदाए लोगों को अपना दीवाना बना लेती है। वह खुद से बहुत प्यार करती हैं और ट्रॉल्स का मुंह भी बंद करवा देती हैं।

पिछले कुछ सालों में डॉली सिंह के इंस्टाग्राम फॉलोअर्स एक मिलियन तक पहुंच गए हैं। यह सब उनकी वीडियोस, कंटेंट और केवल उनके मनोरंजन कौशल से नहीं हुआ है। बल्कि यह उनकी उनके फैंस के साथ वफादारी और सच्चाई का परिणाम है।

डॉली सिंह का करियर अब ऊंचाइयों को छू रहा है। वह केवल अपने वीडियोस या सोशल मीडिया तक ही सीमित नहीं है। सोशल मीडिया कंटेंट क्रिएशन से बहुत आगे बढ़कर अब वह फिल्मों और वेब सीरीज में भी नजर आ रही हैं।

 उन्होंने "आई लव थाने " शॉर्ट फिल्म में ध्रुव सेहगल की दोस्त का किरदार निभाया था। इसके साथ ही उन्होंने मॉडर्न लव मुंबई में भी काम किया है। वह जल्दी ही फील्स लाइक होम में दर्शकों को नजर आने वाली है। 

लोग मुझमें खुद को देख सकते हैं

SheThePeople के साथ अपने एक इंटरव्यू में उन्होंने अपने बारे में बहुत कुछ बताया। उन्होंने अपने नए कैरेक्टर, कंटेंट क्रिएशन और लाइफ के बारे में बहुत सारी बातें की। बदलती सोशल मीडिया की ऑडियंस के बारे में जब उन से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि मैं एक इंट्रोवर्ट हूं और मैं अक्सर मेंटल हेल्थ पर बात करती हूं। उन्होंने बताया कि वह अपनी ऑडियंस के साथ बहुत ही ज्यादा ओपन है। वह जो सामने हैं वही रियल हैं।

उन्होंने कहा कि लोग मुझ में खुद को देख सकते हैं। डॉली नैनीताल, उत्तराखंड की रहने वाली है। वह अपनी पढ़ाई के लिए दिल्ली आ गई थी और national institute of fashion से उन्होंने फैशन मैनेजमेंट का कोर्स भी किया।

उनके बहुत सारे फैंस ने साउथ दिल्ली गर्ल्स सीरीज में उनके किरदार की काफी प्रशंसा भी की है। वह हमेशा जनता के सामने कुछ नया लेकर आती है। 

एक्टिंग और क्रिएशन

बॉलीवुड के अपने प्रोजेक्ट्स में व्यस्त होने के बावजूद भी डॉली अपने कंटेंट क्रिएशन को वक्त देती है। उनका कहना है कि मैं शुरू से ही खुद से काम करती आई है। यह उन्हें बहुत ही खुशी देता है। वह कभी-कभी अपने साथ बहुत ही बुरा व्यवहार भीकरती है। वक्त की कमी होने के कारण वह अपने आराम को कम करके अपने काम को ज्यादा समय देती हैं। वह कहती हैं कि मैं कोशिश करती हूं कि अपने साथ न्याय कर सकूं और खुद को थोड़ा समय दे सकूं।

अनुशंसित लेख