Monsoon Snacks: स्वाद के साथ-साथ हैल्थ के लिए भी फायदेमंद है भुट्टा

Monsoon Snacks: स्वाद के साथ-साथ हैल्थ के लिए भी फायदेमंद है भुट्टा Monsoon Snacks: स्वाद के साथ-साथ हैल्थ के लिए भी फायदेमंद है भुट्टा

Vaishali Garg

30 Jun 2022

बरसात का सीजन हो और हम भुट्टा की बात ना करें ऐसा तो हो ही नहीं सकता। मानसून के मौसम में भुना हुआ भुट्टा  को नींबू के रस के साथ मिलाकर खाना, जीवन के सबसे बड़े सुखों में से एक है।

भुट्टा को मकई और स्वीट कॉर्न के नाम से भी जाना जाता। यह आरामदेह चीज न केवल स्वादिष्ट लगता है, बल्कि यह आपके शरीर को कई पोषक तत्व प्रदान करके आपके संपूर्ण स्वास्थ्य को बढ़ाता है। आज की इस हैल्थ ब्लॉग में हम आपको भुट्टा के पांच बेनिफिट बताएंगे जो आपकी हेल्प के लिए काफी अच्छे साबित होंगे।

भुट्टा के हैल्थ बेनिफिट्स-

1. कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करता है

आप जानते होंगे कि खराब कोलेस्ट्रॉल भारत की शहरी आबादी में बढ़ती हृदय रोगों के लिए जिम्मेदार है।  विटामिन C, बायोफ्लेविनोइड्स, कैरोटेनॉयड्स और फाइबर से भरपूर होने के कारण कॉर्न कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है और आपकी आर्टरीज को ब्लॉक होने से भी रोकता है। यह बदले में आपके हृदय रोग के जोखिम को कम करता है। मकई ही नहीं, ऐसे कई खाद्य पदार्थ हैं जिनका आप रोजाना सेवन करते हैं जो आपके ब्लड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम कर सकते हैं।

2. आपकी त्वचा को स्वस्थ रखता है

जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है, हमारी त्वचा फ्री रेडिकल से होने वाली क्षति से ग्रस्त होती है, जिसके कारण हमें झुर्रियाँ पड़ने लगती हैं। मकई बीटा-कैरोटीन में समृद्ध है जो विटामिन A, विटामिन C और अन्य एंटीऑक्सीडेंट से भरा होता है जो आपकी त्वचा को स्वस्थ रखता है और उम्र बढ़ने के संकेतों को रोकता है।

3. हड्डी को मजबूत करता है

मकई जस्ता, फास्फोरस, मैग्नीशियम और लौह जैसे खनिजों में समृद्ध है। ये खनिज आपकी हड्डियों के स्वास्थ्य को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। यह आपको विभिन्न हड्डियों से संबंधित बीमारियों जैसे गठिया से भी बचाता है।

4. आंखों की समस्याओं से बचाता है

मकई में बीटा-कैरोटीन पाया जाता है, जो यौगिक विटामिन ए के निर्माण में मदद करता है। यह विटामिन आपकी दृष्टि में सुधार करने के लिए जाना जाता है और आंखों से संबंधित विभिन्न समस्याओं को भी रोकता है। इसके अलावा, मकई में कैरोटीनॉयड की उपस्थिति उम्र से संबंधित macular degeneration के विकास के जोखिम को कम भी करती है।

5. गर्भवती महिलाओं के लिए बढ़िया

शोध के अनुसार मकई में मौजूद फोलिक एसिड या विटामिन बी 9 गर्भवती महिलाओं के लिए एक अत्यंत महत्वपूर्ण पोषक तत्व है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि विकासशील बच्चे में फोलेट की कमी से न्यूरल ट्यूब डिफेक्ट या रीढ़ की हड्डी में खराबी हो सकती है, इसके अलावा फोलिक एसिड बच्चे में अंतर्गर्भाशयी विकास मंदता और गर्भकालीन एनीमिया के जोखिम को भी कम करता है।

अनुशंसित लेख