हर मां बाप अपने बच्चे से बहुत प्यार करते हैं। लेकिन कई बार चिड़चिड़े होकर बच्चे से कुछ ऐसा कह देते हैं जो उन्हें नहीं कहना चाहिए। बच्चों के मन में कई चीजों को लेकर जिज्ञासा जागती है और और वह कई बार गलत काम भी कर देते हैं। आपका फर्ज है कि आप उन्हें गलत काम करने से रोके और सिखाएं। ऐसा करते समय कुछ बातों का भी ध्यान रखें वरना उससे बच्चों पर गलत असर भी पड़ सकता है। इसीलिए बच्चों को भूलकर भी ना कहें यह 5 बात।

बच्चों को भूलकर भी ना कहें यह पांच बात

1. तुम्हारे सवाल फालतू हैं

बच्चे छोटे होते हैं उन्हें देश दुनिया या लोगों के बारे में ज्यादा समझ नहीं होती हैं। इसलिए वह आपसे कई तरह के सवाल पूछते हैं। जिसमें कोई गलत बात नहीं है। बच्चों की जिज्ञासा को समझ कर उनका जवाब देना जरूरी होता है। इससे बच्चे सीखते हैं और गलत और सही में फर्क भी समझते हैं। इसीलिए बच्चे को डांटने से अच्छा है कि आप उनकी बातों का जवाब दें।

2. बहुत परेशान करते हो तुम

अक्सर पेरेंट्स बच्चों का ऐसा कह देते हैं, जो कि गलत है। आप ही बताइए अगर बच्चे बात आपसे शेयर नहीं करेंगे तो किस से करेंगे। इसलिए उन्हें ऐसा ना कहें बल्कि उनकी बात को समझें। अगर आप व्यस्त हैं तो उन्हें समझाएं कि बाद में बात करेंगे, अभी मुझे थोड़ा काम है।

3. मुझे नहीं लगता तुम ऐसा कर पाओगे

यह बात हर माता-पिता अपने बच्चों को नहीं कहते हैं। लेकिन ऐसे कई माता-पिता हैं जो अपने बच्चों को प्रोत्साहित करने के बजाए हतोत्साहित कर देते हैं। जो कि गलत है ऐसा करने से बच्चों का कॉन्फिडेंस कम हो सकता है। इसीलिए उन्हें हमेशा प्रोत्साहित करें।

4. इससे तो अच्छा है तुम पैदा ही नहीं होते

कई बार यह वाक्य पेरेंट्स गुस्से में कह देते हैं, लेकिन इस बात का बच्चों पर गलत असर पड़ता है। उन्हें यह भी न सकता है कि आप उनसे खुश नहीं है। इसलिए गुस्से में भी ऐसी बात ना करें। साथ ही उनकी बात को सुनने और समझने की कोशिश भी करें।

5. वह बच्चा तुम से बेहतर है

अक्सर पेरेंट्स अपने बच्चे की तुलना किसी और के बच्चे से करते हैं। लेकिन ऐसा करने से आपके बच्चे डिमोटिवेट हो सकते हैं और उनका कॉन्फिडेंस लेवल भी गिर सकता है।

Email us at connect@shethepeople.tv