हम बड़े लोग तो गर्मियों के हिसाब से जैसे जैसे दिक्कत होती है अपना रुटीन बदलते जाते हैं पर छोटे बच्चे बहुत परेशान हो जाते हैं। बच्चे कुछ कह नहीं पाते हैं इसलिए हमें ऐसे ही उनकी दिक्कत को समझना चाहिए। गर्मियों में बच्चे अक्सर चिड़चिड़े हो जाते हैं और बहुत ज्यादा रोने लगते हैं क्योंकि उन से गर्मी सहन नहीं हो पाती है। छोटे बच्चे का ध्यान रखने के लिए बच्चे को बाजार की चीज़ों से दूर रखें और ज्यादा से ज्यादा घर की और नेचुरल चीज़ें ही उनके लिए इस्तेमाल करें।

1. खाना कैसा खाएं ?

अगर आपका बच्चा दूध पीता है तो आप हल्का और ठंडा वाला खाना खाएं जैस कि फल और ठंडी सब्जियां। हम जो खाते पीते हैं वही हमारी त्वचा पर असर करता है। इस लिए आप ज्यादा पानी वाली सब्जियां और फल खाएं जैसे कि तरबूज, खरबूज, ककड़ी और टमाटर। इस से आपके शरीर में पानी की कमी नहीं आ पाएगी। गर्मी में ज्यादातर बीमारियां पानी की कमी से ही होती हैं।

2. केमिकल के इस्तेमाल से कैसे बचें ?

बच्चे की त्वचा बहुत ज्यादा नाज़ुक होती है इसके कारण उन्हें बाहर की चीज़ें नुकसान करती हैं। आजकल कई ऐसे पाउडर क्रीम और प्रोडक्ट्स आने लगे हैं जिनके इस्तेमाल से गर्मी से तुर्रंत आराम मिल जाता है। ऐसे प्रोडक्ट्स में केमिकल होते हैं जिस से बच्चे की कोमल त्वचा पर नुकसान कर सकते हैं। इसलिए इन्हे ज्यादा इस्तेमाल ना करें।

3. गर्मी कम करने के लिए क्या करें ?

जब गर्मी ज्यादा पड़ने लगती है तब बच्चे को बार बार पसीना आता है जिस से इन्फेक्शन के चान्सेस बड़ सकते हैं। इसलिए बच्चे को दिन में 2 से 3 बार गीले कपड़े से पोंछें। बच्चे को बर्फ से दूर रखें और खुद भी ज्यादा ठंडी और फ्रिज की चीज़ें न खाएं। इसका खास कर के ध्यान जब रखें जब आप कहीं धूप से आ रहे हो। धूप से आने के बाद बर्फ का पानी आपका सीधा बीमार कर सकता है।

Email us at connect@shethepeople.tv