New Sibling: इन 5 तरीको से प्रिपेयर करें अपने बच्चे को नए बेबी के लिए

New Sibling: इन 5 तरीको से प्रिपेयर करें अपने बच्चे को नए बेबी के लिए New Sibling: इन 5 तरीको से प्रिपेयर करें अपने बच्चे को नए बेबी के लिए

SheThePeople Team

13 Jul 2021

प्रेगनेंसी के दौरान सबसे पहले ये ज़रूरी है की आप अपने बच्चे को आने वाले बेबी के लिए प्रिपेयर करें। कई बार देखा गया है कि पेरेंट्स अपने बड़े बच्चे को नए बेबी के लिए प्रिपेयर नहीं करते हैं और फिर इस कारण उनमें बेबी के आने के बाद इन्सेक्योरिटी बढ़ जाती है। इसलिए चाहे आपके बच्चे की उम्र जो भी हो आपको उसे नए बेबी के लिए प्रिपेयर करना ज़रूरी है ताकि बेबी के आने के बाद उनमें वल्नरेबिलिटी ना बढ़े और नए बेबी के साथ उनकी बॉन्डिंग भी अच्छी रहे। जानिए बच्चे को नए बेबी के लिए प्रिपेयर करने के ये 5 तरीके:

1. जल्दी करें अनाउंस


अपने बच्चे को नए बेबी के बारे में बताने का कोई बेस्ट मेथड नहीं है इसलिए अपने और बच्चे की सुविधा को देखते हुए उनके साथ ये न्यूज़ शेयर करें। इसके साथ ही साथ बच्चे को बे की देय डेट भी समझाएं। अगर आपके बच्चे 5 वर्ष से छोटे हैं तो उनको कई बातें जल्दी समझ में नहीं आएगी। इसलिए उनकी उम्र के हिसाब से उनके सवालों का जवाब देने की कोशिश करें।

2. उनके बेबीहुड के बारे में करें बात


नए बेबी के लिए प्रिपेयर करते वक़्त आप अपने बच्चों के कई पुरानी चीज़ें जैसे उनके कपड़ें और खिलौने को फिर से निकालते हैं। कोशिश करें की इनके थ्रू आप अपने बच्चे को उनके बेबीहुड से जुड़ी बाते बताएं ताकि उनको भी इस बात का एहसास हो की वो खुद भी कभी बे थें और उनके लिए भी आपने वही सब किया था जो आप इस नए बेबी के लिए कर रहे हैं।

3. थोड़ा मूडीनेस एक्सपेक्ट करें


बेबी को लेकर आपके बच्चे का मूड में परिवर्तन कभी भी हो सकता है। हो सकता है प्रेगनेंसी के वजह से आप अपने बच्चे को सही से टाइम ना दे पाएं या फिर उनके साथ खेल ना पाएं और इस कारण आपके बच्चा थोड़ा मूडी हो जाए। इसलिए इन सब के कारण चिंता करने की कोई ज़रूरत नहीं है क्योंकि बच्चों का मूड अपनेआप ठीक हो जाएगा।

4. मेडिकल टर्म्स समझाएं


आपको बार-बार हॉस्पिटल और डॉक्टर के पास जाता देख आपके बच्चे को लग सकता है की आप बीमार हों। इसलिए उन्हें ये समझाएं की प्रेगनेंसी के समय डॉक्टर को कंसल्ट करते रहना क्यों ज़रूरी है। अगर हो सके तो एक-दो अपॉइंटमेंट्स पर उन्हें भी अपने साथ ले जाएँ ताकि वो खुद से इन सब चीज़ों को समझ पाएं।

5. बच्चे का रखें ख्याल


बच्चे थोड़े सेल्फ-सेंटर्ड हो सकते हैं क्योंकि वो अभी भी दुनिया को समझने में लगे रहते हैं। इसलिए ऐसे में उन पर आपका फोकस बने रहना बहुत ज़रूरी है ताकि उन्हें अपने घर में इन्स्योर ना लगे। ऐसे में आप उन्हें नए बेबी के आने के बाद के रोल के बारे में समझा सकते हैं ताकि उन्हें बेबी के प्रति थोड़ा रेस्पोंसिबल फील हो और इस कारण बेबी के आने के बाद उनकी बॉन्डिंग और स्ट्रांग हो जाए।

अनुशंसित लेख