उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर डिस्ट्रिक्ट के एक गाँव में शेविंग ब्लेड से ही सी-सेक्शन कर दिया गया। इसकी वजह से माँ और उसका नवजात बच्चा दोनों की ही मृत्यु हो गई। जिस आदमी ने इनका सी-सेक्शन किया था उसका नाम है राजेंद्र शुक्ला और वो सिर्फ आठवीं तक ही पढ़ा है और एक लोकल अस्पताल में काम करता था।

राजेंद्र शुक्ला के बारे में और जानकारी –

राजेंद्र सुल्तानपुर डिस्ट्रिक्ट के गाँव सैनी के एक अस्पताल “माँ शारदा” में काम करता था। ये अस्पताल राजेश साहनी नामक इंसान का है और ये बिना रजिस्ट्रेशन के ही अस्पताल चलाता था। इस अस्पताल में कोई भी पढ़ा लिखा डॉक्टर और नर्स नहीं हैं और सिर्फ मिडवाइब्स और नवसिखिया ही यहां काम करते हैं।

पुलिस ने क्या कार्यवाही की ?

1. महिला के पति ने पुलिस में इसके बारे में शिकायत दर्ज की थी।

2.  पुलिस ने राजेंद्र शुक्ल और राजेश सैनी दोनों को ही गिरफ्तार कर लिया है।

3. पुलिस ने मेडिकल चीफ को ऐसे अवैध क्लिनिक्स के ऊपर कार्यवाही करने को भी कहा है।

4. सुल्तानपुर के SP चतुर्वेदी ने बताया की ये मामला महिला के पति के केस फाइल करने के कारण ही सबके सामने आया है।

5. पति ने कहा कि मेडिकल लापरवाही के कारण ही उसकी बीवी और बच्चे की जान गई है।

6. महिला की स्तिथि ख़राब होने के कारण महिला को लखनऊ के KGMU ट्रोमा सेंटर ले जाया गया था जहां महिला कि मृत्यु हो गई थी।

ऐसे लोगों से सतर्क रहें

ऐसे गाँव में ना जाने मेडिकल लापरवाही के कारण कितनी ही महिलाओं को परेशानी झेलनी पढ़ती है। ऐसे अवैध क्लिनिक्स को हर जगह से ख़त्म करने की शक्त जरुरत है। गाँव में दूर दूर अस्पताल होने के कारण ऐसे अवैध क्लिनिक्स लोगों का बहुत फायदा उठाते है। इसलिए ऐसे लोगों से सतर्क रहें । आपको अगर ऐसा कुछ दिखे तो तुरंत इसकी रिपोर्ट पुलिस स्टेशन जाकर करें।

Email us at connect@shethepeople.tv