Benefits Of Reading Books: बुक्स पढ़ने के 10 फ़ायदे

किताब ही आपके सच्चे दोस्त हैं, यह कहावत तो आपने सुनी ही होगी और यकीन मानिए यह सच है। बुक्स ना केवल आपको सिखाती हैं बल्कि आप के ज्ञान को भी बढ़ाती है। आइए जानते हैं बुक पढ़ने के लिए कुछ टिप्स इस ब्लॉग में

Aastha Dhillon
13 Jan 2023
Benefits Of Reading Books: बुक्स पढ़ने के 10 फ़ायदे

Reading Book

Benefits Of Reading Books: किताब ही आपके सच्चे दोस्त हैं, यह कहावत तो आपने सुनी ही होगी और यकीन मानिए यह सच है। आप सोच रहे होंगे की मैं ऐसा क्यों कह रही हूँ, क्योंकि मैंने यह खुद ही महसूस किया है। एक समय था जब मेरे जीवन में ऐसा समय आया जब कुछ ठीक नहीं चल रहा था तो मैंने अपने आपको किताबों में व्यस्त रखा।

 जानें बुक्स पढ़ने के यह फायदे 

मैंने किताबें पढ़ना शुरू किया, कुछ गूगल रिवियु पढ़ के और कुछ अपने ही मन से मैंने किताबें ऑनलाइन मंगवाना शुरू किया। आज मुझे यही सिलसिला शुरू किये हुए पूरे दो साल हो गए ।

मैंने हर प्रकार की किताबें पढ़ना शुरू किया, कुछ फनी, कुछ रोमांटिक कुछ सस्पेंस से भरपूर। जब से यह सिलसिला शुरू किया मुझे खुद में भी कई परिवर्तन दिखाई दिए। आप भी जान लें किताब पढ़ने के फायदे


1. मैंने कभी किताब का कवर देखकर यह निश्चित नहीं किया की यह मुझे पढ़नी चाहिए, की नहीं।

2. दोस्तों की राय ज़रूर ली लेकिन वही किताब पहले पढ़ी जो मुझे लगा की शायद मुझे पसंद आएगी।

3. पढ़ते वक़्त काफी अच्छे और नए शब्द सीखने को मिले, उनका अर्थ समझ न आने पर गूगल किया जिसकी वजह से मेरी अपनी knowledge भी काफी बढ़ी।

4. जितनी ज़्यादा किताबें मैंने पढ़ी मुझे यह भी पता चला की किस प्रकार की किताबें मुझे पसंद हैं ।

5. मेरा फ्री टाइम का सही उपयोग मैंने किया, एक किताब आपका समय अच्छा व्यतीत करवाती है।

6 . आज किंडल रीडिंग के ज़माने में न जाने क्यों मुझे पेपर बुक ही ज़्यादा पसंद हैं, इसका अलग ही मज़ा है।

7. मैंने अपने टेबल में एक छोटी सी लाइब्रेरी बनाई है जहाँ मेरी सारी किताबें हैं ताकि मैं आसानी से कोई भी किताब पढ़ना शुरू कर सकूं।

8. पढ़ते वक़्त मैं अपना मोबाइल नहीं देखती, सोशल मीडिया से दूर रहती हूँ।

9. जब आपका दिमाग किताब में मग्न रहता है तो बेफिज़ूल की बातों पर ध्यान नहीं जाता। आप अंदर से ही खुश रहतें हैं।

10. अपने आपको एक ही किताब के स्टाइल में सीमित न करें, अलग-अलग प्रकार की किताब पढ़ना बहुत ही आवश्यक है ।

किताबें पढ़ना आपके मानसिक स्वास्थय के लिए ज़रूरी है। किताबों की दुनिया बहुत ही काल्पनिक, रोचक और सच्चाई से परिपूर्ण है, इसीलिए उम्र के पहले ही पड़ाव से किताबें पढ़ें। बड़ों को पढ़ता देखकर बच्चे भी यह एक अच्छी आदत सीखेंगे।

Read The Next Article