First Night Of Marriage: शादी को सफल बनाना चाहते हैं? अपनाएं वास्तु शास्त्र

जब आप सुहागरात के लिए कमरे को सजाने कि बात करते है। तो आपको वास्तु शास्त्र के अनुसार कमरे में तस्वीरों का खासा ख्याल रखना चाहिए। यदि आपके कमरे में भगवान कि तरवीर या किसी भी अन्य पूजनीय पितरों की तस्वीर हो तो इन्हें जरूर से हटा लें।

Shruti Upadhyay
16 Dec 2022
First Night Of Marriage: शादी को सफल बनाना चाहते हैं? अपनाएं वास्तु शास्त्र

First Night Of Marriage

First Night Of Marriage:हम सभी की ज़िन्दगी में शादी एक बहुत ही खास पल होता है। लड़कों कि माने तो उनकी चाहतें लड़कियों के मुकाबले कम होती हैं। लेकिन शादी के बाद हर लड़की चाहती है कि उसकी शादी सफल रहे। ज़िन्दगी भर वह अपनी शादी कि पहली रात को याद करते है। यही रात आपकी आने वाली ज़िन्दगी को खूबसूरती प्रदान करती है। अगर आप भी वास्तु शास्त्र में विश्वास करते है। तो आज हम आपको बताएंगे वास्तु शास्त्र द्वारा बताए गए उपाय । जो आपकी पहली रात को यादगार बानाने के साथ साथ आपकी आने वाली ज़िन्दगी में सुनहरे रंग भरने का काम करेंगे।

1. ताजे फूल (flowers) महकाएंगे ज़िन्दगी

शादी कि पहली रात हर किसी के लिए बहुत खास होती है।सुहागरात को सुंदर बनाने के लिए लोग फूलों का उपयोग करते है। फूलों की महक कामोत्तेजना को प्रभावित करती हैं। इस के साथ साथ फूल पहली रात को यादगार बनाते है। लेकिन यदि वास्तु शास्त्र की बात कि जाए तो आपको ताजे  फूलों का ही उपयोग करना चाहिए। क्योंकि ताजे फूल प्यार की निशानी होते हैं। जो आपके रिश्ते को और भी ज्यादा मजबूत करते हैं। आपको बासी फूलों की जगह ताजा फूल ही उपयोग में लाना चाहिए।

2. कमरे में तस्वीरों का रखें ध्यान

जब आप सुहागरात के लिए कमरे को सजाने कि बात करते है। तो आपको वास्तु शास्त्र के अनुसार कमरे में तस्वीरों का खासा ख्याल रखना चाहिए। यदि आपके कमरे में भगवान कि तरवीर या किसी भी अन्य पूजनीय पितरों की तस्वीर हो तो इन्हें जरूर से हटा लें। क्योंकि यह आपकी फर्स्ट नाइट के लिए शुभ नहीं होते।

3. बिस्तर की दिशा का जरूर रखें ध्यान

शादी की पहली रात का आंनद पाने के लिए। साथ ही साथ इस आनंद से आने वाली ज़िन्दगी को खुशहाल बनाने के लिए। आपको इस बात को जरूर ध्यान रखना चाहिए। आपको अपने कमरे में अपने बिस्तर की दिशा का ध्यान रखना चाहिए। दक्षिण दिशा का त्याग करते हुए आपको उत्तर पश्चिम दिशा में अपने बिस्तर को लगाना चाहिए। यह दिशा आपकी नई ज़िन्दगी को भी नई दिशा प्रदान करेगी।

4. लाइटिंग (lighting) का रखें ध्यान

शादी की पहली रात को सुंदर बनाने के लिए लोग अक्सर बहुत सारी लाइटों का उपयोग करते हैं। आज हम आपको बताएंगे वास्तु शास्त्र के अनुसार कुछ ऐसी रोशनी। जिनका पेहली रात में उपयोग निषेध किया गया है। शादी की पहली रात में अपने कमरे में कभी भी, आपको पीले रंग की या फिर हल्के ऑरेंज कलर की लाइटों का उपयोग नहीं करना चाहिए। दरअसल शादी की पहली रात आपके गृहस्थ आश्रम में प्रवेश की रात होती है। तो वहीं यह लाइट वैराग्य जागृत करने के लिए उत्तरदाई होती हैं।

Read The Next Article