ब्लॉग

Coconut Oil Benefits: जानिए नारियल तेल के ये 5 हेल्थ फायदें

Published by
Ritika Aastha

हमारे देश में विशेष कर दक्षिण भारत में नारियल तेल का प्रयोग लगभग हर भोजन में किया जाता है। खाना के साथ साथ ये त्वचा और बालों के लिए भी भरपूर पोषण प्रदान करता है। अपने इन्हीं गुणों के कारण हम नारियल तेल को आज एक सुपरफूड के तौर पर देख सकते हैं। इसमें मौजूद फैटी एसिड्स का यूनिक कॉम्बिनेशन आपको कई हेल्थ फायदें भी दे सकता है जैसे फैट लॉस, हार्ट हेल्थ और ब्रेन फंक्शनिंग। जानिए नारियल तेल के 5 हेल्थ फायदें:

1. हेल्दी फैटी एसिड्स से भरपूर

नारियल तेल में कुछ सैचुरेटेड फैट्स बहुत ज़्यादा अमाउंट में पाए जाते हैं। ये फैटी एसिड्स आपके बॉडी ववेइट को घटाने में आपकी मदद कर सकते हैं। सिर्फ यही नहीं नारियल तेल में मौजूद फैटी एसिड्स आपके ब्रेन को क्विक एनर्जी पहुंचाने में सक्षम है। ये आपके शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को भी बढ़ाते हैं और हार्ट डिजीज के रिस्क को घटाते हैं।

2. फैट बर्निंग में करता है मदद

ओबेसिटी हमारे देश की में सबसे व्यापक हेल्थ डिजीज है। नारियल तेल में मीडियम चैन ट्राईग्लिसराईड होता है जो आपके रोज़ के कैलोरी बर्निंग कैपेसिटी को बढ़ा देता है। इसलिए अगर आपको वज़न घटाना है तो आप नारियल तेल का सेवन कर सकते हैं। यहाँ ये बात ध्यान में रखनी ज़रूरी है की नारियल तेल में खुद बहुत कैलोरीज होती है इसलिए इसका सेवन हिसाब से ही करें।

3. इसमें है एंटीमाइक्रोबियल प्रॉपर्टीज

नारियल तेल में 50 प्रतिशत लॉरिक एसिड होता है। जब आप ये लॉरिक एसिड का सेवन करते हैं तो आपके शरीर में अलग सब्सटांस फॉर्म होता है जिसे मोनोलौरीन कहते हैं। ये आपके शरीर में मौजूद हार्मफुल पैथोजन्स जैसे बैक्टीरिया और फुनगी को नष्ट कर देता है। इसलिए आप नारियल तेल के सेवन से इन पैथोजन्स से होनी वाली बिमारियों से बच सकते हैं।

4. गुड कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने में कर सकता है मदद

नारियल तेल में मौजूद सैचुरेटेड फैट्स आपके शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को बढ़ा सकते हैं। सिर्फ यही नहीं ये आपके बाद कोलेस्ट्रॉल को भी एक कम जानलेवा चीज़ में तब्दील कर सकते हैं। जब आपके शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ती है तो आपकी मेटाबोलिक हेल्थ भी सुधरती है और आपको हार्ट डिजीज का खतरा भी कम होता है।

5. अल्जाइमर डिजीज में ब्रेन फंक्शनिंग में कर सकता है मदद

अल्जाइमर की बीमारी बुजुर्गों में डेमेंशिया का कारण बन सकती है। ऐसे हालत में आपका दिमाग ग्लूकोस को अच्छे तरह से यूज़ करने में सक्षंम नहीं रहता है। शोध बताते हैं की नारियल तेल के रेगुलर इस्तेमाल से आपके ब्रेन के सेल्स ठीक रह सकते है। हालाँकि अभी भी इस एरिया में बहुत शोध बाकी है।

ये सार्वजानिक रूप एकत्रित जानकारी है। यदि आपको किसी विशिष्ट सलाह की ज़रूरत है तो कृपया डॉक्टर से परामर्श लें।

Recent Posts

Career After Marriage? क्या महिलाओं का शादी के बाद करियर के बारे में सोचना गलत है?

शादी के बाद करियर की ओर जाने के लिए महिलाओं को मना किया जाता है।…

2 mins ago

Pfizer Vaccine 90% Effective For Children: फाइजर ने कहा कोरोना वैक्सीन बच्चों पर 90% से भी ज्यादा असरदार है

बच्चों के लिए कोरोना की वैक्सीन का काफी लम्बे समय से इंतज़ार हो रहा था।…

15 mins ago

Ananya Pandey Denies Drug Allegations: अनन्या पांडेय ने आर्यन खान को ड्रग देने की बात न मंजूर की

कल NCB ने एक ही समय पर दो टीम बनाकर मन्नत और अनन्या के घर…

2 hours ago

Karwa Chauth 2021: करवा चौथ की सरगी और पूजा की थाली तैयार करने का सही तरीका

करवा चौथ का त्यौहार इस साल 24 अक्टूबर को देशभर में रखा जाएगा। इस त्यौहार…

2 hours ago

Afternoon Nap? दोपहर में सोने के फायदे और नुकसान

 मानव शरीर के लिए जितना जरूरी पौष्टिक आहार होता है उतनी ही जरूरी 8-9 घंटे…

2 hours ago

This website uses cookies.