ब्लॉग

अपना चैनल एक करोड़ सब्सक्राइबर्स तक पहुॅंचाना है मेरा सपना – होम शेफ सीमा अजय

Published by
Ayushi Jain

सीमा अजय अपनी अनोखी नरेटिंग स्टाइल और कुकिंग नॉलेज से आज वो सभी दर्शकों में काफी मशहूर है। 44 इयर्स की उम्र में उन्होंने अपना खुद का YouTube चैनल शुरू किया और आज वो हर घर की रसोई का हिस्सा बन गई। महाराष्ट्र के एक शहर यवतमाल में रहते हुए उन्होंने अपने जीवन को एक नयी दिशा दी। आज शीदपीपल में हम जानेंगे होम शेफ सीमा अजय की जर्नी के बारे में।

1. आपका होम शेफ बनने का सफर कब और कैसे शुरू हुआ?

मुझे खाना बनाने का शोंक तो बचपन से ही रहा है. स्कूल और काॅलेज के दिनों में मैने कई बार कुकिंग प्रतियोगिताओं में भाग लिया है और इनाम भी जीते है. ग्रेजुएशन के बाद शादी हुई. फिर कई सालो बाद मैने फिर से पढ़ाई शुरू की और हिन्दी साहित्य से एम. ए. और फिर लेक्चरार बनने के लिए युजीसी की नेट परिक्षा पास की। कुछ दिन स्कूल में पढ़ाया भी. पर मन नही लगा। कुछ समय तक नेटवर्क मार्केटिंग भी किया पर वहाँ भी मन नही लग रहा था।  मैं कुछ ढूॅंढ रही थी, कुछ ऐसा जो मेरी पसंद का हो ,.मेरा पैशन हो. जिसमें मै अपनी क्षमताओं को सिध्द कर सकू, जिसमें मै औरो को कुछ दे सकू. मगर समय एैसे ही गुज़रता रहा. गर्मी की छुट्टियाँ चल रही थी. वर्ष 2016 का मई का महीना था, एक दिन अचानक मेरे बेटे ने कहा ” मम्मी आप इतना अच्छा खाना बनाती हो, इनकी रेसिपी वीडियो बनाकर युटयूब पर क्यो नहीं पोस्ट करती?” और एक दिन सचमुच उसने युटयूब पर चैनल बनाया Seema’s Smart Kitchen और मोबाइल से वीडियो बनाकर पोस्ट किया. उसे दर्शकों ने बहुत पसंद किया. बस फिर क्या था। एक के बाद एक नई नई रेसिपी बनाकर पोस्ट करने लगी। रिसपाॅन्स मिलने लगा, लोग मेरी रेसिपी पसंद करने लगे और सब्सक्राइबर्स बढ़ने लगे। फिर मैने पीछे मुड़कर नही देखा. इन चार सालों में Seema’s Smart Kitchen में 16,00,000 लोगो की फैमिली बन गयी है और इस चैनल को 19,00,00,००० से ज़्यादा बार देखा गया है. आज इस चैनल पर 900 से अधिक रेसिपी वीडियो उपलब्ध हैं।

2. आपका सिग्नेचर स्टाईल ऑफ़ कुकिंग क्या है?

कुकिंग कलीनरी आर्ट है. हर शेफ की कोई खास रेसिपी होती है. हर एक का अपना स्टाइल होता है, जो उसे दूसरो से अलग करता है. वही उसकी पहचान बनती है. लेकिन मेरा मानना है कि शेफ की सिगनेचर डिश समय के साथ बदलती रहनी चाहिये. उसे बार बार इनोवेशन करते रहना चाहिये. मेरे चैनल पर आपको ढेर सारी इनोवेटिव रेसिपीज देखने को मिलेगी. खासतौर पर घर में उपलब्ध साधारण चीज़ों के साथ. यही मेरा पैशन है।

3. कोरोना वायरस और लाॅकडाउन ने आपके काम को किस तरह प्रभावित किया है?

लाॅकडाउन में नई नई रेसिपीज बनाना किसी चैलेंज से कम नही था क्योंकि, बहुत से इनग्रेडिएंटस मिलना मुश्किल था. इस दौरान मैने घर में उपलब्ध चीज़ों से ही कई इनोवेटिव रेसिपीज पोस्ट किये. पान्डेमिक के दौरान सभी होटल और रेस्त्राॅं बंद होने की वजह से लोगों की केक, डेजर्ट्स जैसी रेसिपीज की डिमांड भी बढ़ गयी थी।

4. पान्डेमिक के समय मे लोग बाहर खाना बंद करके घर पर ही नयी डिशेस बना रहे है और अपने कुकिंग स्किल्स को आजमा रहे है. इसके बारे में आप क्या कहना चाहेंगी?

पान्डेमिक की वजह से लोग घर में ही अपने कुकिंग स्किल्स आजमा रहे है. यह वाकई अच्छा भी है, जो की बाहर का अस्वच्छ और स्वास्थ्य की दृष्टि से हानिकारक खाना खाने से तो बेहतर ही है.

और पढ़ें: Home Chef Poonam Devnani: अगर मन में विश्वास हो, तो कोई भी मंज़िल दूर नहीं

5. सोशल मिडिया का आपकी जर्नी में क्या रोल रहा है?

युटयूब, इंस्टाग्राम , फेसबुक आदि सोशल मिडिया प्लॅटफार्म पर Seema’s Smart Kitchen की आज अच्छी खासी फैन फाॅलोइंग के साथ मौजूद है. लोग एक परिवार की तरह मुझसे जुड़े हुए है. आज लोग मुझे मेरी रेसिपीज के कारण जानते है. मेरे सब्सक्राइबर्स देश के अलग -अलग राज्यो से है. कुछ लोगो से तो मेरा पर्सनल रिश्ता सा बन गया है. होम शेफ के रूप में मेरी एक अलग पहचान बन गयी है. और ये सब हुआ सोशल मिडिया के कारण. मेरी सफलता के इस सफर में सोशल मिडिया का बहुत बड़ा रोल है.

6. आपके अनुसार क्या कुकिंग का जेंडर से कोई लेना देना है?

मेरा ये मानना है कि कुकिंग का जेंडर से कोई संबंध नही है. इस क्षेत्र में आज पुरूष भी बड़े-बड़े मुकाम पर है. पुरूषो को भी इस कलीनरी आर्ट में अपने स्किल्स आजमाकर करीयर बनाना चाहिये।

7. आपके काम को लेकर आपकी भविष्य में क्या योजनाएं है?

स्वाद से कोई समझौता न करते हुए, इसे ध्यान में रखकर रोज़ नए एक्सपेरिमेंट्स द्वारा नई नई रेसिपीज बनाना मेरा पैशन है. हम सब जानते हैं  कि भारतीय खाना स्वाद और सेहत की दृष्टि से दुनिया में सर्वश्रेष्ठ है. फिर भी कुछ विदेशी रेसिपीज आज भी ऐसी है, जिनसे हम परिचित नही है. ऐसी रेसिपिज को Seema’s Smart Kitchen के माध्यम से लोगों के सामने लाकर मुझे बहुत खुशी होगी. एक सब्सक्राइबर के साथ शुरू हुआ ये स्वादों का सफर एक करोड़ सब्सक्राइबर्स तक पहुॅंचाना ही मेरा सपना है.

Recent Posts

कमलप्रीत कौर कौन हैं? टोक्यो ओलंपिक के फाइनल में पहुंची ये भारतीय डिस्कस थ्रोअर

वह युनाइटेड स्टेट्स वेलेरिया ऑलमैन के एथलीट के साथ फाइनल में प्रवेश पाने वाली दो…

1 hour ago

टोक्यो ओलंपिक 2020: भारतीय डिस्कस थ्रोअर कमलप्रीत कौर फ़ाइनल में पहुंची

भारत टोक्यो ओलंपिक में डिस्कस थ्रोअर कमलप्रीत कौर की बदौलत आज फाइनल में पहुचा है।…

2 hours ago

क्यों ज़रूरी होते हैं ज़िंदगी में फ्रेंड्स? जानिए ये 5 एहम कारण

ज़िंदगी में फ्रेंड्स आपके लाइफ को कई तरह से समृद्ध बना सकते हैं। ज़िन्दगी में…

13 hours ago

वर्कप्लेस में सेक्सुअल हैरासमेंट: जानिए क्या है इसको लेकर आपके अधिकार

किसी भी तरह का अनवांटेड और सेक्सुअली डेटर्मिन्ड फिजिकल, वर्बल या नॉन-वर्बल कंडक्ट सेक्सुअल हैरासमेंट…

14 hours ago

क्या है सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिजीज? जानिए इनके बारे में सारी बातें

सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिजीज किसी को भी हो सकता है और अगर सही वक़्त पर इलाज…

14 hours ago

This website uses cookies.