केयरिंग पार्टनर कैसे बनें – आजकल कई ऐसे पार्टनर्स होते हैं जिनको ये समझ नहीं आता है कि जब इनकी गर्लफ्रेंड के पीरियड्स आते हैं तब ये क्या करें। पीरियड के कारण लड़कियों को मूड स्विंग्स होते हैं और ये काफी मूडी हो जाती हैं। ऐसे में कई बार लड़का काफी परेशान हो जाता और लड़की की हेल्प करना चाहता है।

समझदारी दिखाएं

कई ऐसी लडकियां होती हैं जो कि अपनी प्रोब्लम्स को खुलकर नहीं बता पाती हैं। ऐसे में आपको खुद समझना चाहिए और थोड़ा समझदार बनना चाहिए। इस वक़्त आपको जरुरत होती है अपनी गर्लफ्रेंड को कम्फर्टेबले बनाने की। ये किसी भी रिलेशनशिप को बेहतर बनाने का पहला स्टेप होता है।

हेल्प करें

पीरियड्स के वक़्त बॉडी काफी थकी हुई होती है। कभी आपके पैर दर्द करते हैं तो कभी आपकी कमर ऐसे में आपको काम करने की इक्षा नहीं होती है और आपको बहुत आलस भी आता है। इसलिए इस वक़्त एक बॉयफ्रेंड को काम में हेल्प करना चाहिए।

अच्छा खाना खिलाएं

पीरियड्स के वक़्त आप हमेशा कोशिश करें कि आप आपकी गर्लफ्रेंड को उसकी पसंद की चीज़ें खिलाएं। आप खुद भी बना सकते हैं या फिर आर्डर भी कर सकते हैं।

केयर करें

आप आपकी गर्लफ्रेंड का ध्यान दें और उसकी केयर करें ये उसे बहुत पसंद आएगा। आप उसके बाल में आयल मसाज कर सकते हैं या फिर उनके पैर में मालिश कर सकते हैं। इस से उन्हें काफी रेलक्स फील होगा और अच्छा भी लगेगा।

उसकी बातों पर ध्यान दें

जब आपकी गर्लफ्रेंड पीरियड्स पर होती है तब वो आपको कई बातें कहती है जैसे दर्द हो रहा है या कुछ खान है या कुछ गुस्सा करना। ऐसे में आप इरिटेट न हों और समझें उसकी बात को और ध्यान दें। आजकल कई ऐसे पार्टनर्स होते हैं जिनको ये समझ नहीं आता है कि जब इनकी गर्लफ्रेंड के पीरियड्स आते हैं तब ये क्या करें। पीरियड के कारण लड़कियों को मूड स्विंग्स होते हैं और ये काफी मूडी हो जाती हैं।

Email us at connect@shethepeople.tv