Work & Study: कैसे आप काम और पढ़ाई साथ में संभाल सकते हैं?

टाइम टेबल का उपयोग करते हुए हम हमारे समय को काफी अच्छे से बांट लेते हैं। हमें पता होता है कि हमें किस घंटे क्या करना है। आपको यह सोचते हुए टाइम गवाने की जरूरत नहीं पड़ेगी, कि अब मैं क्या करूं?

Shruti Upadhyay
10 Dec 2022
Work & Study: कैसे आप काम और पढ़ाई साथ में संभाल सकते हैं?

Work & Study

भारत में यह बात काफी नई है पर विदेशों में नहीं। फॉरेन कंट्रीज( foreign countries) में बच्चे पार्ट टाइम जॉब(part time job) भी करते हैं और पढ़ाई भी। वैसे तो यह सोच काफी अच्छी है, कि आप अपना खर्चा खुद उठा सकते है। आप फाइनेंशली इंडिपेंडेंट (financial independent)भी हो सकते हैं, और साथ ही साथ अपने एजुकेशन को बेहतर बना सकते हैं। 

हां यह बात सही है कि, दोनों चीजों को एक साथ मैनेज करना काफी कठिन हो जाता है। आपको इस बात की चिंता करने की जरूरत नहीं। क्योंकि आज हम आपको बताएंगे कि, आप अपनी एजुकेशन और अपने काम को एक साथ कैसे मैनेज कर सकते है।

How to manage work and study together - 

1. टाइम टेबल (time table) का करें उपयोग

टाइम टेबल का उपयोग करते हुए हम हमारे समय को काफी अच्छे से बांट लेते हैं। हमें पता होता है कि हमें किस घंटे क्या करना है। आपको यह सोचते हुए टाइम गवाने की जरूरत नहीं पड़ेगी, कि अब मैं क्या करूं? वैसे यह बात तो सही है की टाइम टेबल बनाने के बाद हम अधिकतर उसे एक या 2 दिन ही फॉलो कर पाते हैं। 

यदि आप अपनी मर्जी से टाइम टेबल बनाते है। तो आप उसे ज्यादा दिनों तक यूज कर सकते है। आपका जब मन करता है, उसी समय पर पढ़ाई को रखें और काम करते हुए आप रिवीजन भी करें।

2. काम ऐसा करें जो पढ़ाई से जुड़ाव रखता हो

आपको कोई ऐसा काम चुनना चाहिए जो आपकी पढ़ाई से जुड़ाव रखता है। आपको अपनी पढ़ाई याद करने में या फिर काम करते हुए भी रिवीजन करने का पूरा मौका मिल जाएगा। उदाहरण के लिए यदि आप जर्नलिज्म (journalism) के स्टूडेंट हैं तो आप आर्टिकल राइटिंग (article writing) या किसी न्यूज़ वेबसाइट (news website) के लिए काम कर सकते है। ऐसा करते हुए आप काम भी कर पाएंगे और स्टडी से जुड़े भी रहेंगे और आपका एक्सपीरियंस (experience) भी बढ़ेगा।

3. ज्यादा तनाव (stress) लेने की कोशिश ना करें

अगर आप अपनी मनपसंद जगह काम करते है,या जो काम आप करते आपको वह पसंद है। तो आपको तनाव नहीं होगा । लेकिन यदि आप कोई ऐसा काम करते हैं, जो आपको पसंद नहीं, तो वहां तनाव जैसे हालात उत्पन्न हो जाते है। तो आपको हम बताना चाहेंगे, कि यदि आप पढ़ाई और काम दोनों को एक साथ करना चाहते है, तो हमेशा ऐसा काम चुनें जो आपको पसंद हो। 

आपको वह काम ना करें जिसे करने में आपको तनाव झेलना पड़े। क्योंकि यदि आप तनाव ज्यादा लेंगे, तो उसका असर आपकी पढ़ाई पर पड़ेगा। जो आपके लिए अच्छा नहीं होगा । आप दोनों चीजों को एक साथ अच्छे से बैलेंस नहीं कर पाएंगे।

4. मत भूलें ब्रेक लेना

कभी-कभी हम काम मे इतना ज्यादा व्यस्त हो जाते है, या अपने डेली रूटीन में ज्यादा व्यस्त हो जाते है, कि खुद को समय नहीं दे पाते। यदि आप भी ऐसा करते है, तो यह गलती मत करें। आपको हमेशा यह याद रखना चाहिए कि यदि आप 2 घंटे काम कर रहे है। तो आधा घंटा आराम जरूर करें। इसी तरह जब आप पढ़ाई करते है, तब भी 2 घंटे पढ़ाई करने के बाद आपको 15 मिनट या आधे घंटे का ब्रेक जरूर लेना चाहिए। 

ऐसा करके आप अपने काम को और पढ़ाई को ज्यादा वक्त दे पाएंगे और हेडिक (headache) जैसी चीजों से बच जाएंगे। देखिए हम जानते हैं, कि काम करना और पढ़ाई करना दोनों ही कठिन है। दोनों एक साथ करना काफी कठिन है। पर आप यह कर सकते है।

Read The Next Article