कई बार, कुछ विषयों पर ज्यादा चर्चा न होने के कारण, लोग अपने स्तर पर ही या अपने दोस्तों के साथ उस विषय पर सोचना और समझना शुरू करने लगते है। अपने सीमित स्तर पर विषयों को जाँचना, तमान तरह की कल्पनाओ और उससे जुड़े ‘myth’ को जन्म देता है। ऐसे मामलों में ज्यादातर विषय या तो शारीरिक संबंध बनाने से जुड़े होते है, या महिलाओं से।

image

महिलाओं से जुड़ा एक ऐसा ही विषय है पीरियड्स। इस विषय के बारे में, खुले में बात करने से आमतौर पर लोग बचते है। जिसकी वजह से इससे जुड़े ‘myth’ जड़ पकड़ लेते है और हमारे सामने आती  है ‘पीरियड्स से जुड़ी तमाम कल्पनाएँ’। इसीलिए हमारे लिए यह जरूरी है कि हम ‘पीरियड्स myth’ को जानें और समझें की ये महज़ कल्पनाएँ है।

पीरियड्स से जुड़े myths

  • यह एक myth है कि पीरियड्स में exercise नहीं करनी चाहिए। आप अपने पीरियड्स के दिनों हल्का योग और exercise बिल्कुल कर सकती है।
  • कई महिलाएँ menstrual cups का इस्तेमाल करने से बचती है,क्योंकि उनको लगता है की वो उनके अंदर कही खो जाएगा। यह एक myth है। आपकी वजाइना सिर्फ 3.77 inches ही गहरी होती है, इसीलिए आपकी वजाइना में कभी कुछ खो नहीं सकता। आपको menstrual cups के इस्तेमाल से घबराने की जरूरत बिल्कुल नहीं है।
  • यह एक myth है कि पीरियड्स के दिनों sex करना unhealthy होता है। आप अगर अपने उन दिनों मे सेक्स करने के लिए comfortable है तो आप बिल्कुल कर सकती है।
  • यह एक myth है कि पीरियड्स के दिनों sex करने से pregnant नहीं हो सकते। अगर आप pregnant नहीं होना चाहते तो आप protected सेक्स ही करें।
  • यह एक myth है कि पीरियड्स के दिनों सिर से नहीं नहाना चाहिए।
  • यह एक myth है कि पीरियड्स के दिनों swimming नहीं कर सकते। आप menstrual cups का इस्तेमाल करके, बिल्कुल स्विमिंग कर सकती है।

पढ़िए : Irregular periods: इन 5 कारणों से आपके पीरियड्स इर्रेगुलर हो सकते हैं

Email us at connect@shethepeople.tv