योग हमारे शरीर, मन और आत्मा को एक साथ लाने का काम करता है। इससे हमारे शरीर को ही नहीं बल्कि हमारे मस्तिष्क को भी कई फायदे होते हैं। यह हमारे मन और मस्तिष्क को शांति प्रदान करता है, आत्मा को शुद्ध करता है और तंदुरुस्त बनाता है। लेकिन क्या आपको पता है कि यह हमारे सेक्सुअल हेल्थ को भी सुधारता है। कई बार हम सेक्स से जुड़ी परेशानी से जूझ रहें होते हैं। जैसे कि सेक्सुअल टेंशन, ऑर्गेनेज्म नहीं आना। लेकिन आप योगा के जरिए सेक्स से जुड़ी कई समस्याओं को दूर कर सकते हैं। जानिए पांच योगासन जिससे आप सेक्सुअल हैल्थ इंप्रूव कर सकते है।

1. भुजंगासन(Bhujangasana)

भुजंगासन में शरीर सांप की आकृति बनाता है इसीलिए इसे कोबरा आसन भी कहते हैं। इस आसन में जमीन पर पेट के बल लेट कर अपने शरीर को पीठ की तरफ खींचा जाता है। यह आसन पुरुषों के पेव्लिक हिस्से को मजबूत बनाने में और यौन शक्ति बढ़ाने में मदद करता हैं। इसके कारण लंबे समय तक संभोग क्रिया कर पाने के लिए सक्षम हो जाते हैं। इसके अलावा इससे रीढ़ की हड्डी भी मजबूत होता है और पाचन तंत्र की समस्याओं को दूर करता है।

2. सेतु बांधा सर्वांगासन (Setu Bandha Sarvangasana)

सेतु बांधा सर्वांगासन kegels और मांसपेशियों को मजबूत बनाता हैं। यह आसन सेक्स के दौरान होने वाले दर्द को काम करता है। इस आसन को करने के लिए आप पीठ के बल लेट जाएं और पैरों को मोड़ लें। अपने हाथों को शरीर के साथ जमीन पर रख लें। इसके बाद अपना सर उठा लें।

3. एका पड़ा रजाकपोसना(Eka Pada Rajakapotasana)

टाइट हिप्स के कारण कई तरह के सेक्स पोजीशन को नहीं कर पाते हैं। यह आसन शरीर को खींचता है और हिप्स को लचीला बनाता है। जिसके कारण कई तरह के सेक्स पोजीशन को करनेे में मदद मिलती है और सेक्सुअल हैल्थ इंप्रूव करता है। इससे करने के लिए जमीन पर लेट जाएं। अपने दाएं पैर को शरीर के आगे लाएं और बाएं पैर को जमीन में रखकर खींचे।

4. अधोमुख श्र्वानासन(Adhomukh shwanasan)

आमतौर पर यह आसन शरीर में लचीलापन लाने और गर्दन या कमर में दर्द से छुटकारा पाने के लिए किया जाता हैं। यह संभोग की इच्छा को बढ़ाने में भी मदद करता है। यह आसन करते वक्त आपका हिप्स हवा में और सर नीचे होता हैं। दरअसल सर नीचे होने के कारण दिमाग उत्तेजित हो जाता है। इससे रक्त का संचार पेल्विस हिस्से में बढ़ जाता है। इस आसन को करने के लिए पेट के बल लेट जाएं। फिर हाथों और पैरों के बल से अपने शरीर को उठाएं। कोशिश करें कि आसन करते वक्त शरीर उल्टे v आकार में आ जाए।

5. बद्ध कोणासन(baddha konasana)

यह आसन libodo यानि यौनेच्छा में कमी को दूर करने में मदद करता है। यह आसन हिप्स के बल बैठकर किया जाता है जिसके कारण पेल्विस हिस्सा एक्टिवेट होता है। यह टेंशन को भी कम करता है और सेक्सुअल डिजायर को बढ़ाने में मदद करता है। आसन को करने के लिए कमर सीधा कर जमीन पर बैठ जाएं। टांगो को खोलकर बाहर की तरफ फैलाएं और पेट के नीचे की तरफ मोर लें।

Email us at connect@shethepeople.tv