महिलाओं और पुरुषों दोनों में ही इनफर्टिलिटी के अलग-अलग कारण होते हैं और दोनों को ही इनफर्टिलिटी हो सकती है। तो आइए जानते हैं महिलाओं में इनफर्टिलिटी के कारण क्या होते हैं और इसे कैसे सही किया जा सकता है ?

महिलाओं में इनफर्टिलिटी के कारण

इनफर्टिलिटी का कोई कारण नहीं होता है। इसके कारण अलग-अलग शरीर के हिसाब से अलग-अलग हो सकते हैं।

इनफर्टिलिटी के कारण 3 प्रकार के हो सकते हैं। जैसे

1. लाइफ स्टाइल के कारण

  • बढ़ती हुई उम्र,
  • स्मोकिंग करना,
  • एल्कोहल का ज्यादा मात्रा में सेवन करना,
  • वजन का ज्यादा होना,
  • आपको सेक्शुअली ट्रांसमिटेड इनफेक्शन होना जो आपके रिप्रोडक्टिव सिस्टम को खराब कर दे,

2. मेडिकल कंडीशन के कारण

महिलाओं में इनफर्टिलिटी का एक मुख्य कारण हो सकता है उनकी मेडिकल कंडीशन में बदलाव या फिर कोई समस्या

  • Ovulation disorder – इसके दौरान हो सकता है क्यों उनके शरीर में कोई हार्मोनल इंबैलेंस हो,
  • PID : PID एक प्रकार का इंफेक्शन होता है जो फैलोपियन ट्यूब, यूट्रस या वजाइना में होता है।
  • Endometriosis
  • प्रीमेच्योर ओवेरियन failure
  • पिछली किसी सर्जरी से परेशानी

3. मेडिकेशंस और ड्रग के कारण इनफर्टिलिटी

कई बार कई स्थितियों में ऐसी मेडिकेशंस और ड्रग्स के कारण भी इनफर्टिलिटी हो सकती है जैसे

  • केमोथेरेपी – कीमो थेरेपी या फिर रेडिएशन थेरेपी के जरिए  infertility संभव है,
  • लंबे समय से एस्पीरियन या फिर आइबूप्रोफेन जैसी दवाइयों का हाय डोज़ लेने से,
  • Antipsychotic दवाई लेने से
  • मरिजुआना और कोकेन जैसे ड्रग लेने से भी इनफर्टिलिटी हो सकती है।

महिलाओं में इनफर्टिलिटी का इलाज

  • यूट्रस की शेप को सही करके,
  • फैलोपियन ट्यूब को अनब्लॉक कर के,
  • फाइब्रॉयड को हटाकर
  • IVF – IVF एक तरह की प्रक्रिया है जिसमें एक एग को यूट्रस से हटाकर मैन के स्पर्म के साथ लैबोरेट्री में फर्टिलाइज किया जाता है। फर्टिलाइजेशन के बाद उसे वापस यूट्रस में रख दिया जाता है

इनफर्टिलिटी को लेकर लोगों के कई प्रकार के मिथ्स भी होते हैं। जिनसे आप खुद को दूर रखें।

Email us at connect@shethepeople.tv