5 ऐसी बातें जो Mother in law को नहीं कहनी चाहिए

Rajveer Kaur
25 Oct 2022
5 ऐसी बातें जो Mother in law को नहीं कहनी चाहिए

भारत में सास और बहू का रिश्ता खट्टा मीठा है। शुरू से ही चाहे आप किताबों में पढ़ ले, फिल्मों में देख या फिर कोई कहानी पढ़ ले उसमें हमेशा सास और बहू को एक दूसरे की जानी दुश्मन दिखाया गया है। जिनकी एक दूसरे से कभी नहीं बनती। सास भी बहू को वैसे स्वीकार नहीं करती जैसे उसकी बेटी होती हैं। वह हमेशा उसके साथ किसी न किसी तरीके से पक्षपात करती ही हैं। उनको ऐसी बातें बोलती हैं जो कई बार बहू से बर्दाश्त भी नहीं होती। आज हम आपको बताएंगे कि ऐसी 5 बातें जो एक सास को नहीं बोलनी चाहिए-

5 ऐसी बातें जो Mother in law को नहीं कहनी चाहिए

हमेशा बेटे की साइड लेना
यह ज्यादातर देखा जाता हैं सास हमेशा अपनी बेटे की साइड लेती हैं। बेटा चाहे गलत हो, उन्होंने हमेशा अपने बेटे की ही साइड लेनी है। अक्सर  आप  को सास ऐसा कहते हुए मिल जाएगी कि मेरा बेटा कभी गलत नहीं हो सकता। मैं अपने बेटे को जानती हूं वह ऐसा नहीं करेगा। यह देखना चाहिए कौन सही है या गलत उसके हिसाब से फैसला लेना चाहिए।

हमें जल्द से जल्द पोता दे दो
सास की तरफ से हमेशा अपनी बहू को प्रेशराइज किया जाता है कि हमारे मरने से पहले या हमारे बूढ़े होने से पहले हमें एक बार पोते का मुंह दिखा दो। पहली बात तो आप ऐसा कह कर जो कन्या भ्रूण हत्याएं होती हैं उसको आप बढ़ावा दे रहे हो। दूसरी तरफ यह पति-पत्नी की निजी पसंद है कि उनको कब बच्चा करना है? या नहीं करना है तो ऐसी बात कभी भी नहीं कहनी चाहिए।

तुम्हारी किस्मत मुझसे अच्छी है
अक्सर  सास को लगता है कि उसकी बहू की जिंदगी और किस्मत उससे ज्यादा अच्छी है। उसे ज्यादा प्रतिबंधों में रखा गया है लेकिन ऐसी कोई बात नहीं होती है लगभग वैसी की जिंदगी जी रही होती है जैसे उसके सास ने जी होती हैं।

यह तुम्हारी मां का घर नहीं है
अक्सर यह देखने और सुनने को मिल जाता है जब वो कुछ अपनी मर्जी का कर ले या सास को वह चीज पसंद ना आए तब सांस हमेशा अपनी बहू को कह देते कि यह तुम्हारी मां का घर नहीं है। सबसे पहले की एक लड़की जो अपना सब कुछ छोड़कर आपके घर आई है आप उसको यह महसूस करवा रहे हो कि यह तेरा घर नहीं है तो उसका घर कौन सा है?

मेरे बेटे की सैलरी उड़ाने पर तुम्हारा जोर है
पहली बात कि कुछ परिवार ऐसे होते हैं जो अपनी बहू को नौकरी नहीं करने देते। उन्हें पूरी तरह पैसे के लिए अपने पति के ऊपर निर्भर रखते हैं। अगर जब वह अपने पति से अपनी जरूरतों के लिए कुछ पैसे मांग ले या कुछ शॉपिंग कर ले तो फिर उनको कहा जाता है कि तुम अपने पति की पूरी तनखा इसी में उड़ा देती हो। सास की तरफ से हमेशा कहा जाता हैं कि तुम तो मेरे बेटे की सैलरी उड़ा उड़ाने पर लगी हो। सांस को यह बात बिल्कुल सही नहीं उसका  हक है। उसका पति है तो उससे नहीं मांगी तो किससे मांगेगी।

अनुशंसित लेख