मां बाप बनना महिला और पुरुष दोनों के लिए ही के लिए यह पल काफी महत्वपूर्ण और खास होता हैं। लेकिन इसके साथ महिलाओं के शरीर में कई बदलाव आते हैं। साथ ही परेशानी भी झेलनी पड़ती है। जैसे कि जी मचलना, शरीर में दर्द होना, नींद ना आना और आदि। गर्भावस्था में अपने साथ अपने शिशु का ख्याल रखना भी उतना ही जरूरी है। इसीलिए प्रेगनेंसी में स्वस्थ रहने के लिए फ्रूट और सब्जियों का सेवन करें।

प्रेगनेंसी में फ्रूट्स खानें के फायदे

प्रेगनेंसी के दौरान पोषक तत्त्वों की काफी जरूरत होती हैं। इसीलिए फल खाना जरूरी होता है, क्योंकि यह पोषक तत्वों से भरपूर होता है। फलों में ज्यादा मात्रा में विटामिन और मिनरल्स पाएं जातें हैं साथ ही फाइबर की भी अच्छी मात्रा होती है। यह प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली समस्या, कब्ज को होने से रोकता है। प्रेगनेंसी में अनहेल्दी फूड खाने के बजाय विटामिन से भरपूर फ्रूट्स खाएं यह आपकी शिशु के लिए ही नहीं बल्कि आपके सेहत के लिए भी बेस्ट होता हैं।

प्रेगनेंसी में स्वस्थ रहने के लिए खाएं ये 5 फ्रूट्स

1. नारंगी(orange)

नारंगी में फोलेट(folate) पाएं जातें हैं, जो न्यूरल ट्यूब डिफेक्ट को होने से रोकने में मदद करता है। वही नारंगी आपको हाइड्रेटेड रखता है और यह विटामिन सी का सबसे अच्छा स्रोत है, जो मां और बच्चे दोनों के सेहत के लिए लाभदायक हैं।

2. आम(mangoes)

आम में विटामिन ए और विटामिन सी के गुण पाएं जातें हैं। एक कप कटा हुआ आम खाने से विटामिन सी और विटामिन ए की जरूरत को 100 प्रतिशत पूरा किया जा सकता है। यह बच्चे के इम्यूनिटी को मजबूत करता है और रेस्पिरेटरी इंफेक्शन को होने से भी रोकता है।

3. नाशपाती(pears)

नाशपाती में फोलेट, पोटैशियम, फाइबर भरपूर मात्रा में पाएं जातें हैं जो प्रेगनेंसी में कब्ज को होने से रोकते है। वही पोटैशियम बच्चे और मां दोनों के हार्ट हेल्थ का ख्याल रखता है।

4. केला(Banana)

विटामिन सी पोटेशियम, विटामिन बी और फाइबर से भरपूर यह फल प्रेगनेंसी के वक्त जी मचलना और उल्टी जैसी समस्याओं से काफी हद तक राहत देता है। साथ ही बच्चे को हर तरह के जन्मजात दोस्त से भी बचाता है।

Email us at connect@shethepeople.tv