ब्लॉग

Rape Reasons : रेप का कारण यह 4 चीजें नहीं होती है

Published by
Harshita Gurnani

रेप का कारण – समाज के नजरों में हमेशा से लड़कियों के साथ गलत होने का जिम्मेदार लड़कियों को ही ठहराया जाता हैं। उनके हिसाब से लड़के जो करे सही है लेकिन लड़कियों को संभल के रहना चाहिए। यहां तक कि नारा भी बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ लगाए जाता है, जबकि बेटियों को बचाने से अच्छा है कि बेटों को समझाया जाए।

रिपोर्ट के अनुसार हर साल रेप के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। 2019 में महिलाओं के खिलाफ कुल चार लाख मामले दर्ज हुए थे, उसमें से 32,330 रेप के मामले थे। समाज को सोच बदलने की जरूरत है क्योंकि छोटेे कपड़े हो या सारी हो, औरत हो या बच्ची हो कोई भी सुरक्षित नहीं हैं। समाज को समझने की जरूरत है कि ये 4 चीजें रेप का कारण नहीं हैं।

1. रेप का कारण छोटे ड्रेस नहीं होते हैं

21वी सदी आ गई है जमाना बदलता जा रहा है लेकिन समाज की सोच वही अटकी है की लड़कियों के छोटे कपड़ों के कारण उनके साथ गलत होता है। अगर लड़कों को आजादी है कि वह जो चाहे पहन सके तो लड़कियों का पहनना गलत क्यों है ? क्या लड़कों से डर कर अपनी मर्जी से जीना छोड़ देना चाहिए ? बिल्कुल नहीं, गलती छोटे कपड़े पहनने वालों की नहीं होती है बल्कि गलती लड़कों की नजर की होती हैं। क्योंकि रेेप तो छोटी बच्ची और साड़ी पहनने वाली के साथ भी होता है।

2. रेप का करण लेट नाइट बाहर रहना नहीं होता है

लड़कियों को घर में बंद करने से बेहतर है कि लड़कों को कंसंट और जबरदस्ती में फर्क समझाया जाए। आपको यह बता दे की The Wire की रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली में 98% रेप के पीछे रिश्तेदार या कोई करीबी पाए गए हैं। इसलिए जब लड़का पैदा हो तो उसे बचपन से ही गलत और सही के बारे में सिखाएं ना कि लड़की पैदा होने पर उसे घर में बंद कर दें।

3. रेप का कारण पोर्न देखना नहीं होता है

ज्यादातर लोग पोर्न इसलिए देखते हैं क्योंकि उनके मन में अपने बॉडी के लेकर कई तरह की जिज्ञासा जागती है। जिसका जवाब बच्चे के मां-बाप उसे नहीं देते हैं, जोकि बहुत जरूरी है। हालांकि रेप का कारण पोर्न नहीं होता है। लेकिन कुछ लोग पोर्न से इतना प्रभावित हो जाते हैं कि वह अपनी सेक्स लाइफ या दूसरी लड़कियों के साथ जबरदस्ती करने लगते हैं। इसीलिए पोर्न को जिम्मेदार देने से अच्छा है कि अपने बच्चे को सेक्स एजुकेशन दे।

4. रेप का कारण मेल फ्रेंड्स होना नहीं होता है

अगर लड़की एक लड़के के साथ भी दिख जाए तो समाज उस बात को लेकर हो हल्ला मचा देता हैं। जबकि लड़के के साथ घूमना कोई बड़ी बात नहीं है। वही अगर किसी लड़की के साथ जबरदस्ती हुआ हो तो उसका सारा ब्लेम उसके चरित्र पर डाल दिया जाता है। लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हर लड़के गलत नहीं होता है और ना लड़कों के साथ घूमना गलत होता है। जो लड़के ऐसी हरकत करते हैं इनकी सोच लड़कियों को लेकर गलत और गंदी होती हैं।

Recent Posts

पूजा हेगड़े का कैसा रहा बचपन ? जानिए उनके बारे में 10 बातें

पूजा हेगड़े एक भारतीय मॉडल और एक्ट्रेस हैं, जो मुख्य रूप से तेलुगु और हिंदी…

1 hour ago

वीकेंड वॉच लिस्ट: इस वीकेंड पर क्या-क्या देख सकते हैं?

जुलाई के पूरे महीने में कई बेहतरीन फिल्में और वेब सीरीज रिलीज़ हो रही हैं।…

11 hours ago

विमेंस राइट्स: जानिए हमारे देश में महिलाओं के 5 सबसे प्रमुख अधिकार

विमेंस राइट्स को लेकर अभी भी पूरी तरह से लोगों में जागरूकता नहीं बढ़ी है…

12 hours ago

फिल्म “मिमी” की रिलीज़ से पहले जानिए कृति सैनॉन की 5 बेहतरीन फिल्मों के बारे में

उनकी बेहतरीन अदायगी के कारण उनकी फिल्में लगातार सफल हो रही हैं और फैंस उनके…

13 hours ago

केरल की पहली ट्रांसजेंडर RJ अनन्या अलेक्स की आत्महत्या के बाद उनके पार्टनर जीजू भी फ्लैट में मृत पाए गए

केरल की पहली ट्रांसजेंडर रेडियो जॉकी अनन्या अलेक्स की मंगलवार को अपने कोच्ची के फ्लैट…

14 hours ago

“एक मॉम फॉरएवर मॉम रहती है” :शेफाली शाह ऑन मदरहुड

2015 की फिल्म "दिल धड़कने दो" में नीलम का किदरार निभाकर शेफाली शाह ने एक…

16 hours ago

This website uses cookies.