Remedies For Periods Cramps: यह आदतें करेंगी पीरियड्स में ऐंठन को दूर

टॉप-विडियोज़ : बहुत सी महिलाओं के लिए पीरियड्स का समय काफी दर्द और ऐंठन का सामना करना पड़ता है। इस ब्लॉग में हम आपको पांच ऐसे तरीके बताएंगे जिससे आप पीरियड्स के दर्द से आराम पा सकते हैं

Aastha Dhillon
11 Feb 2023
Remedies For Periods Cramps: यह आदतें करेंगी पीरियड्स में ऐंठन को दूर

Periods Cramps

Remedies For Periods Cramps: पीरियड के दौरान लगभग सभी को दर्द का अनुभव होता है। पेनकिलर टेम्पररी राहत देती हैं, मगर इनके रेगुलर सेवन से लोंगटर्म साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। इस ब्लॉग में हम मेंस्ट्रूएशन या पीरियड के दर्द को कम करने के कुछ नेचुरल तरीके बताएंगे। 

पीरियड के दर्द को कम करने के कुछ नेचुरल तरीके:

1. खुद को हाइड्रेट करें (Stay Hydrated)

अधिक पानी पीने से ब्लोटिंग कम होती है। ब्लोटिंग से दर्द और भी बदतर हो जाते है। प्रतिदिन 6 से 8 गिलास पानी पीने से दर्द को कम करने में मदद मिलती है। कुछ महिलाओं को पीरियड के समय दस्त होती है। इसके कारण खोये पानी को रिप्लेस करना बहुत ज़रूरी है।

2.जंक फ़ूड कम करें (Junk Food)

नमक फ्लूइड रिटेंशन और ब्लोटिंग को बढ़ावा देता है। जिन खाद्य पदार्थों में ज़्यादा नमक होता है, जैसे चिप्स, नाचोस और लगभग सभी फास्ट फूड से बचना चाहिए।ट्रांस-फैटी एसिड से बचें जो कमर्सिअली तैयार खाद्य पदार्थों जैसे फ्रेंच फ्राइज़, कुकीज़ और पिज़्ज़ा में पाए जाते हैं। शराब से बचें, जो निर्जलीकरण, तंबाकू और कैफीन को बढ़ावा देता है। ये सभी चीजें सूजन को बढ़ाती हैं और पीरियड्स के दर्द को बढ़ावा दे सकती हैं। यह दिखाने के लिए कुछ सबूत हैं कि हानिकारक वसा का सेवन कम करने से भी दर्दनाक अवधियों को दूर करने में मदद मिल सकती है।

3.डाइट पर ध्यान दें (Healthy Diet)

पीरियड्स के दौरान मीठा या नमकीन खाने की क्रेविंग हो सकती है, लेकिन ये खाद्य पदार्थ सेहत के लिए अच्छे नहीं हैं। चेरी, ब्लूबेरी, टमाटर और बेल पेपर जैसे खाने अच्छे विकल्प हैं। अधिक कैल्शियम युक्त बीन्स, बादाम और साग खाने की सलाह दी जाती है क्योंकि उनमें सूजन से लड़ने वाले गुण होते हैं। 

4. मैग्नीशियम

मैग्नीशियम पीएमएस के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकता है, खासकर जब विटामिन बी 6 के साथ लिया जाता है। एक रिसर्च में पाया गया कि जिन लोगों ने प्रतिदिन 250 मिलीग्राम मैग्नीशियम और 40 मिलीग्राम विटामिन बी 6 लिया, उन्होंने पीएमएस के लक्षणों में सबसे बड़ी कमी का अनुभव किया। इसका ये मतलब नही की आप मैग्नीशियम सप्लीमेंट ले क्योंकि यह खतरनाक हो सकता है। खाने से पाया मैग्नीशियम सुरक्षित होता है। मैग्नीशियम के अच्छे सोर्स है बादाम, पालक, काजू, मूंगफली और काली बीन्स।

5.व्यायाम (Yoga)

कई लोग मानते हैं कि पीरियड के समय व्यायाम नहीं करना चाहिए, पर पाया गया हैं कि व्यायाम करने से पीरियड क्रैम्प्स से राहत मिलती है। व्यायाम से एंडोर्फिन निकलते हैं जो 'हैप्पी हार्मोन' के रूप में काम करते हैं, और दर्द कम करते हैं। चाहे आप चलने, दौड़ने, या तैरने (Tampon/मेंस्ट्रुअल कप का उपयोग करके) का आनंद लें, पीरियड के दौरान इन सभी गतिविधियों में भाग लेना सुरक्षित है। थकान का अनुभव होने पर आपको योग करना आसान लग सकता है। पीरियड क्रैम्प्स कम करने में मदद करने वाले कुछ पोज़ में ब्रिज, स्टाफ पोज़ और बाउंड एंजेल शामिल हैं।   

अगला आर्टिकल