समय के साथ महिलाओं ने, पीरियड्स के दिनों से जुड़ी कई चीजों में बदलाव देखा है। आज जहां पैड्स बहुत-सी महिलाओं के लिए आम हो गया है, वही पहले पीरियड्स में कपड़ों का इस्तेमाल किया जाता था। पैड्स का प्रचलन इतना बड़ जाने के बावजूद आज-भी महिलाएँ, पैड्स का लंबे समय तक उपयोग करने से होने वाले खतरों से अनजान हैं।

image

लंबे वक्त के लिए, पैड्स बेहद खतरनाक साबित हो सकते हैं। हमें, जरूरत है इन खतरों और इससे जुड़े कारणों को जानने की, ताकि हम अपने को और अपने आस-पास की महिलाओं को सतर्क एवं सुरक्षित कर पाएँ। जानिए sanitary napkins ke nuksan

पैड्स से होने वाले खतरें

  1. पैड्स में डाइआक्सिन (dioxin) नामक तत्व मौजूद रहता है। जिसके कारण अंडाशय में कैंसर (ovarian cancer) होने का खतरा होता  है।
  2. लगातार पैड्स लगे होने के कारण, उन जगहों पर एयर सर्कुलेशन बहुत कम हो जाता है। जिसके कारण वहाँ पर बैक्टिरिया पनपने लगते हैं, जो हमारी सेहत के लिए बहुत खतरनाक साबित होते है।
  3. Synthetic पैड्स में रसायन (chemicals) की मात्रा अधिक होने के कारण, शरीर पर बेहद बुरा असर पड़ता है। और इस वजह से कई तरह के skin infection भी होते हैं।
  4. पैड्स में लंबे समय तक जमा खून, कुछ समय बाद सड़ने लगता है और पैड में मौजूद रसायनों से रीऐक्ट (react) कर जाता है। जिसके कारण तेज बदबू आने के साथ गंभीर रोग होने का खतरा बड़ जाता है।
  5. कॉटन पैड्स शरीर के लिए आरामदायक तो होते हैं, मगर उतने ही खतरनाक भी। कॉटन को उगाते वक्त कई तरह के उसमें कीटनाशक डाले जाते हैं। अब यह कॉटन जब पैड्स में इस्तेमाल होता है, तो उसमे कीटनाशक की भी एक मात्रा होती है, जो सीधे हमारे रक्त से जुड़के अंदर के अंगों को नुकसान पहुँचाती हैं। जिससे गंभीर रोगों के होने का डर बड़ जाता है।
  6. पैड्स लगे होने के कारण, उन जगहों पर लगातार नमी रहती है। जिस वजह से वहाँ की स्किन डैमिज (skin damage) होने का खतरा रहता है।
  7. पैड्स में खुशबू के लिए इस्तेमाल होने वाले रसायन (chemicals), शरीर के लिए बेहद खतरनाक साबित होते है। लंबे समय में, इस के कारण गर्भ न धारण कर पाने जैसी गंभीर समस्या तक आ जाती है।

पढ़िए : 6 बातें जो आपको पीरियड्स के बारे में पता होनी चाहिए

Email us at connect@shethepeople.tv