तमिल नाडु सरकार ने मंगलवार यानि 12 जनवरी को 19 जनवरी से राज्य में कक्षा 10वीं और 12वीं के बच्चों के लिए दोबारा स्कूल खोलने की घोषणा की है।

तमिल नाडु के मुख्यमंत्री के.पलानीस्वामी द्वारा जारी किए गए बयान में कहा गया है कि हर कक्षा में केवल 25 छात्र होंगे जो सामाजिक दूरी (सोशल डिस्टेंसिंग) के गाइडलाइंस को बना कर रखेंगे। और, राज्य स्वास्थ्य विभाग उनकी इम्युनिटी को बढ़ावा देने के लिए विटामिन और ज़िंक की गोलियां प्रदान करेगा।

कई स्कूलों के ऐडमिनिसट्रेशन ने शिक्षा विभाग से अनुरोध किया था कि उन्हें वार्षिक परीक्षाओं(annual exam) से पहले फिर से खोलने की अनुमति दी जाए। पिछले साल की शुरुआत में भारत में महामारी के पहुंचने के बाद से देश भर के हजारों स्कूल बंद कर दिए गए थे और लॉकडाउन लागू कर दिया गया था। कई राज्यों ने हाल के दिनों में ही फिर से स्कूल, कॉलेज खोलना शुरू कर दिया है। तमिल नाडु भी भी इन राज्यों में से एक बन गया है।

स्कूलों में हुई मीटिंग्स के दौरान, माता-पिता से फीडबैक लेने के बाद यह निर्णय लिया गया है। ज़्यादातर पेरेंट्स ने मार्च में इस सेशन के समापन से पहले स्कूलों को फिर से खोलने के फै़सले का समर्थन किया।

तमिल नाडु सरकार ने पहले 16 नवंबर को स्कूलों को फिर से खोलने का प्लान बनाया था, लेकिन माता-पिता द्वारा कोविड -19 की दूसरी लहर के डर से इस विचार का विरोध किया गया जिसके बाद ये फैसला रद्द कर दिया गया था।

मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने अपने बयान में कहा है कि राज्य में हाल के हफ्तों में कोविड -19 केसेस की संख्या में लगातार कमी आई है। सोमवार को लिए गए कुल 60,314 सैंपल में से, तमिलनाडु में 680 लोग पॉज़िटिव पाए गए , जिसमें से 201 मामले केवल चेन्नई के हैं। राज्य लगातार डेली बेसिस पर लगभग 60,000 सैंपल्स की टेस्टिंग कर रहा है।

पढ़िये: गुजरात में 11 जनवरी से स्कूल्स और कॉलेजेस दोबारा खोले जा रहे हैं

Email us at connect@shethepeople.tv