दुनिया का सबसे खूबसूरत और मजबूत रिश्ता एक मां और बेटी के बीच का होता है। मां ही होती है जो बेटी को सबसे ज्यादा अच्छी तरह समझती है। बेटी अपनी हर प्रॉब्लम सबसे पहले अपनी मां के साथ शेयर करना चाहती है। लेकिन, सब मां ऐसी नहीं होतीं और सारी मां-बेटी के बीच रिश्तें अच्छे नही होते। हम हमेशा यही सुनते हैं कि सारी मां कितनी अच्छी होती हैं। लेकिन आज हम ‘Bad Mothers’ या ‘Toxic Moms’ के बारें में जानेंगे।

image

-क्या आपकी मम्मी आपकी ज़िन्दगी के सारे फैसले कंट्रोल करना चाहती हैं?
-क्या वो आपको चुप-चाप, शांत, प्यारी-सी, कुछ न बोलने वाली लड़की बनाना चाहती हैं?
-क्या वो आपको सेक्शुअल हेरासमेंट की बात पर चुप रहने को कहती है?
-तुम्हारे शादी या पॉलिटिक्स के विचारों को अनसुना कर देती है या सुनना ही नही चाहती?
-जो आपको, आपके सपनों को कभी सपोर्ट नहीं करती?
-बहुत ज़्यादा ओवरप्रोटेक्टिव मां जो आपको बिल्कुल स्पेस नही देती?
-क्या वो आपसे जलती हैं क्योंकि आप सुंदर हैं?
-क्या आपकी मम्मी सबके सामने अच्छी बनती है और आपके सामने अपना असली रूप दिखाती है?
-क्या वो आपके रगं को लेकर या वजन को लेकर बार-बार बुरा फील कराती हैं।

फिल्मों में हमने देखा है कि एक मां अपने बच्चों को बचाने के लिए कुछ भी कर जाती हैं। लेकिन हमें ध्यान रखना चाहिए कि हम फिल्मी दुनिया में नही बल्कि असली दुनिया में हैं जहां Good Mothers के साथ Bad Mothers भी हैं।

अगर आपका अपनी मम्मी के साथ टॉक्सिक रिलेशनशिप हैं तो डॉ निशा खन्ना द्वारा सुझाए गए इन तरीकों से उसे ठीक करने की कोशिश करें, जैसे-

-पहले जान लें कि आपका रिलेशनशिप टॉक्सिक है या नही। अगर आप पहले इसे जान गई हैं तो रिश्ते को ठीक करने के लिए पहले कदम भी आप ही उठाइये।
-अपनी मम्मी से बात करें
डॉ निशा खन्ना का कहना है कि जब आप बात करें तो आप अपने बारें में बात करें। आप उन्हे बताएं कि आपको उनकी कौन सी बात बुरी लगी, आप उनसे क्या एक्सपेक्ट करती है।
-उनसे बात करते समय बाउंड्री सेट करें।
-अपनी बात कहने के साथ-साथ उनकी बात भी सुनें, समझे और मानें।

पढ़िए: क्या आप शादी करने के बारे में सोच रहे हैं ?

Email us at connect@shethepeople.tv