Vaccination During Pregnancy – न्यू ज़ीलैण्ड और ऑस्ट्रेलिया ने ऐसा कहा है कि सभी प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए समय पर कोरोना वैक्सीन लेना बेहद जरुरी है। ये दोनों देश प्रेग्नेंट महिलाओं को Pfizer कोविद-19 वैक्सीन देने के लिए जोर ड़ाल रहे हैं।

प्रेग्नेंट महिलाओं को रुटीन से वैक्सीन लेना क्यों जरुरी है ?

ऐसा एक रिसर्च के कारण हुआ है जिस में बताया गया ही जो प्रेग्नेंट महिलाओं होती हैं उनकों कोरोना का खतरा आम लोगों से ज्यादा होता है। इसके अलावा जिन प्रेग्नेंट महिलाओं ने वैक्सीन ली थी प्रेगनेंसी के वक़्त उन में कोई भी नेगेटिव इफ़ेक्ट नहीं देखे गए हैं।

प्रेगनेंसी में वैक्सीनेशन का बच्चे पर क्या असर होता है ?

गर्भावस्था के दौरान टीकाकरण भी बच्चे की रक्षा कर सकता है। स्टडी में माँ के दूध और कॉर्ड/गर्भनाल के ब्लड में एंटीबॉडी पाया गया है। जो जन्म से पहले और बाद में शिशुओं के लिए अस्थायी सुरक्षा (निष्क्रिय प्रतिरक्षा) का सुझाव देता है।

यह इन्फ्लूएंजा और काली खांसी के टीके के समान है जो गर्भावस्था के दौरान पीपीआई की रक्षा के लिए दिया जाता है। COVID-19 वैक्सीन प्राप्त करने वाली स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए कोई सुरक्षा चिंता नहीं है, और गर्भवती होने की कोशिश करने वाली महिलाओं को टीकाकरण में देरी करने या टीकाकरण के बाद गर्भवती होने से बचने की आवश्यकता नहीं है।

गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण होगी प्राथमिकता

जब न्यूजीलैंड सरकार ने मार्च में अपनी वैक्सीन रोलआउट योजना की घोषणा की, तो तीसरे समूह में गर्भवती महिलाओं को प्राथमिकता के रूप में नामित किया गया था, जिसमें 1.7 मिलियन लोग शामिल हैं जो COVID-19 को पकड़ने पर उच्च जोखिम में हैं।

यह निर्णय अंतरराष्ट्रीय शोध से उस समय उपलब्ध जानकारी को दर्शाता है जिसमें दिखाया गया है कि COVID-19 वाली गर्भवती महिलाओं के अस्पताल में भर्ती होने और गहन देखभाल में भर्ती होने की संभावना बाकी आबादी की तुलना में अधिक थी।

Email us at connect@shethepeople.tv