वेजाइनल पेन से जुड़ी बातें – कई महिलाओं को वेजाइना में दर्द होता है, जिसे वो नजरअंदाज भी कर देती हैं। पीरियड्स या गर्भावस्था के दौरान योनि में दर्द होना है आम बात है। लेकिन अगर किसी और कारण असुविधा या असहजता महसूस वजाइना के भीतर या बाहरी योनि में तो चिंता का विषय हो सकता है। इसीलिए जरूरी है कि वेजाइनल पेन से जुड़ी जरूरी बातें पता हो, ताकि समय रहते इसका इलाज करवाया जा सकें। समय से इलाज ना करवाने के कारण कई तरह के नुकसान को भी झेलना पड़ सकता है।

1. वेजाइनल पेन के लक्षण

वेजाइनल पेन के लक्षण स्थिति के हिसाब से अलग-अलग होते हैं। लेकिन इसका सबसे विशेष लक्षण में असहजता महसूस होती है। उदाहरण के लिए vulvar vestibulitis एक स्थिति है जिसमें वजाइना में दर्द तभी होता है जब प्रेशर पड़ता है। vulvodynia एक स्थिति है जिसमें लगातार दर्द होता है। हालांकि आम लक्षण यह है –

  • जलन महसूस होना
  • खुजली होना
  • सूजन पर जाना
  • इंटरकोर्स के वक्त दर्द होना
  • एबनॉर्मल वेजाइनल डिस्चार्ज होना

2. वेजाइनल पेन के कारण

  • वेजाइनल पेन का सबसे आम कारण है इंफेक्शन, जैसे कि यीस्ट इन्फेक्शन, गोनरिया, क्लैमाइडिया।
  • सेक्स के कारण ट्रॉमा का सामना करना
  • प्रेगनेंसी के कारण या डिलीवरी के दौरान सर्जरी के कारण
  • मेनोपॉज या कैंसर के कारण
  • डिस्परीयूनिया (dyspareunia) के कारण भी दर्द हो सकता है
  • कोई साइकोलॉजिकल इशु के कारण भी दर्द हो सकता है

3. वेजाइनल पेन का खतरा किसको ज्यादा है

किसी भी उम्र की महिला को इसका सामना करना पड़ सकता है। लेकिन कुछ मामलों में अगर आपको पहले कभी मारी थी तो वेजाइनल पेन आपके लिए खतरनाक हो सकता है। इसके अलावा अगर किसी महिला को कैंसर की बीमारी है तो वह भी हाई रिस्क पर हैं।

कुछ दवाएं आपके योनि दर्द के जोखिम को बढ़ा देता हैं। उदाहरण के लिए, स्टैटिन दवाएं हैं जो कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करती हैं। वे योनि सूखापन पैदा करने के लिए जाने जाते हैं। जिसकेे कारण योनि में दर्द हो सकता है।

Email us at connect@shethepeople.tv