Sexual Orientation: Pansexuality क्या होता है? जानिए जरुरी बातें

Sexual Orientation: Pansexuality क्या होता है? जानिए जरुरी बातें  Sexual Orientation: Pansexuality क्या होता है? जानिए जरुरी बातें

Vaishali Garg

12 Jul 2022

 क्या है Pansexuality?

Pansexuality एक सेक्सुअल ओरियंटेशन है, आइए समझते हैं कैसे, मान लीजिए आप एक लड़का है और आपको हर किसी लिंग के लोगों के साथ शारीरिक संबंध बनाना अच्छा लगता है, तब आपकी जो पहचान होगी वह एक pansexual व्यक्ति की तरह होगी। इसलिए हम यह बोल सकते हैं कि pansexual किसी भी लिंग के लोगों के साथ शारीरिक संबंध बना वह किसी स्पेसिफिक जेंडर को नहीं पसंद करता है वह हर किसी की ओर आकर्षित हो जाता है और उसके साथ शारीरिक संबंध बिल्ड कर सकता है। इसलिए हमें कह सकते हैं कि जब एक व्यक्ति कई प्रकार के लिंग की ओर आकर्षित हो और उनके साथ शारीरिक संबंध बनाने की इच्छा रखता हो तो उसको pansexual pansexuality कहेंगे।

अब बहुत से लोगों के मन में यह गलतफहमी होती है कि पैनसेक्सुअल और बायसेक्सुअल यह दोनों एक ही है लेकिन हम आपको बता दें इनके बीच अंतर होता है।

Pansexuality और Bisexuality में क्या अंतर है?

कुछ लोग जो पैन के रूप में पहचान करते हैं, वे खुद को बायसेक्सुअल भी कहते हैं, लेकिन दोनों में अंतर होता है। पैनसेक्सुअलिटी बायसेक्सुअलिटी अंब्रेला का हिस्सा है, जिसका अर्थ है कि यह कई पहचानों में से एक है जिसमें कोई व्यक्ति एक से अधिक लिंगों के प्रति आकर्षित होता है। 

एक अध्ययन अनुसार, बायसेक्सुअल के रूप में पहचान करने का अर्थ है कि आप दो या दो से अधिक लिंगों के प्रति आकर्षित हैं, जबकि पैनसेक्सुअल के रूप में पहचानने का अर्थ है कि आप सभी लिंगों के लोगों के प्रति आकर्षित हो सकते हैं, और दोनों पहचान ट्रांस समुदाय में शामिल हैं। तो दोनों काफी हद तक ओवरलैप करते हैं, और कुछ लोगों के लिए, वे समान चीजों को दर्शाते हैं।  

क्या एक लिंग से दूसरे लिंग के प्रति अधिक आकर्षित होना ठीक है?

हाँ! आप तब भी पैनसेक्सुअल या उभयलिंगी हो सकते हैं यदि आप खुद को दूसरों की तुलना में एक लिंग के प्रति अधिक आकर्षित पाते हैं। वास्तव में, सर्वेक्षणों और अध्ययनों से पता चलता है कि कई पैनसेक्सुअल और उभयलिंगी लोगों की प्राथमिकता होती है। यह आपके अभिविन्यास को कम मान्य नहीं बनाता है।

क्या आप एक Sexual Orientation से दूसरे पर स्विच कर सकते हैं?

हाँ! किसी विशेष सैक्सुअल ऑरिंटेशन के साथ पहचान करना आजीवन बाइंडिंग कॉन्टैक्ट नहीं है। ऐसा हो सकता है कि आपकी सैक्सुअल ऑरिंटेशन और आकर्षण की आपकी क्षमता समय के साथ बदल जाती है, या आप एक और शब्द सीख सकते हैं जो आपके सैक्सुअल ऑरिंटेशन  का बेहतर वर्णन करता हो। कोई फर्क नहीं पड़ता, आपके ओरियंटेशन से बिलॉन्ग करते हैं आप की महत्वता उतनी ही रहेगी जितनी बाकियों की है।

अनुशंसित लेख