Advertisment

क्या आप दिन भर आलस महसूस करते हैं? जानें कैसे पाएं आलस्य से छुटकारा

हम आपको बता दें की अपर्याप्त या खराब गुणवत्ता वाली नींद थकान और आलस्य का एक सामान्य कारण है। अच्छी गुणवत्ता वाली नींद हमारे शरीर की लिए बहुत जरूरी है। जानें अधिक जानकारी आज के इस इस हैल्थ ब्लॉग में -

author-image
Vaishali Garg
07 Feb 2023
क्या आप दिन भर आलस महसूस करते हैं? जानें कैसे पाएं आलस्य से छुटकारा

Why Do We Feel Lazy All Day?

Why Do We Feel Lazy All Day? आजकल बहुत से लोगों में आम समस्या हो गई है की उनको पूरा दिन आलस से महसूस होता है। बहुत से लोग कहते हैं की पता नहीं क्यों पूरा दिन थकावट महसूस हो रही है जबकि मैंने कुछ ऐसा थकावट भरा कोई काम भी नहीं किया। थकावट या आलस्य का एक सबसे बड़ा कारण हो सकता है तनाव। 

Advertisment

जब शरीर तनाव के संपर्क में आता है, तो यह एड्रिनल ग्लैंड्स से कोर्टिसोल (Stress Harmone) छोड़ता है। हम में से कई लोग अपने शरीर को कोर्टिसोल रिलीज करने के लिए लगातार सक्रिय कर रहे हैं क्योंकि हम अक्सर तनाव में रहते हैं। हमारे शरीर कोर्टिसोल की मांग को पूरा नहीं कर पाते हैं जो अंततः थकान और आलस्य का कारण बन सकता है।

क्या कर सकते तनाव करने के लिए?

Advertisment

मानसिक और भावनात्मक तनाव को कम करने के लिए प्रार्थना, ध्यान, योग या जर्नलिंग में उपस्थित होने जैसी मन- शरीर गतिविधि अभ्यास शुरू करें। बिना खाए ज्यादा देर न रहें। सुबह में उच्च प्रोटीन वाला नाश्ता करने से ब्लड शुगर का स्तर पूरे दिन स्थिर रहता है, जो बदले में आपके शरीर पर तनाव को कम करने में मदद करता है।

क्या सच में खाना-पीना पर ध्यान देकर तनाव कम किया जा सकता है?

Advertisment

आप जो खाते हैं उससे आपकी ऊर्जा का स्तर निर्धारित होता है क्योंकि आपका शरीर फैट, प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट को दैनिक ऊर्जा में परिवर्तित करता है। इसलिए यदि आपका आहार आदर्श से कम है, तो यह लगातार थकान का कारण हो सकता है। अंतर: खाने पीने की चीजों में सुधार कर आप अपने स्वास्थ्य का ध्यान रख सकते हैं व अपने जीवन से तनाव को भी कम कर सकते हैं।



आप क्या कर सकते हैं आलस्य कम करने की लिए?

  1. सरल कार्बोहाइड्रेट को सीमित करें और जई, शकरकंद, क्विनोआ, भूरा और लाल चावल, बुलगुर गेहूं, फ्रीकाह, साबुत जौ, राई और वर्तनी जैसे साबुत अनाज रेशेदार कार्ब्स पर अधिक ध्यान दें।
  2. जब आप कार्ब्स लेते हैं, तो अवशोषण को धीमा करने और ब्लड शुगर को स्थिर करने के लिए उन्हें प्रोटीन और हेल्दी फैट के साथ मिलाएं।
  3. हेल्थी फैट, प्रोटीन और जटिल कार्ब्स युक्त अच्छी तरह से संतुलित खाना खाएं जिसमें बहुत सारी सब्जियाँ हों। कैफीन को सीमित करें क्योंकि यह आपके शरीर को यह सोचने के लिए प्रेरित कर सकता है कि आपके पास वास्तव में आपके पास अधिक ऊर्जा उपलब्ध है।
  4. अच्छी गुणवत्ता वाली नींद हमारे शरीर की लिए बहुत जरूरी है। नींद शरीर में लगभग हर तरह के टिश्यू और सिस्टम को प्रभावित करती है। हम आपको बता दें की अपर्याप्त या खराब गुणवत्ता वाली नींद थकान और आलस्य का एक सामान्य कारण है।
  5. हर रात लगभग एक ही समय पर बिस्तर पर जाने से स्थिरता आएगी जिससे आपकी नींद की गुणवत्ता और अवधि मेंबहुत सुधार हो सकता है।
  6. लाइट को कम करके सोने से पहले एक 'वाइंडिंग डाउन' रूटीन विकसित करें और सोने से 1 या 2 घंटे पहले अपने सभी इलेक्ट्रॉनिक्स बंद करके नीली रोशनी कम करें। बिस्तर से पहले विश्राम तकनीक अपनाएं: प्रार्थना, गहरी साँस लेने के व्यायाम, ध्यान या गर्म स्नान। 
  7. आप चाहे तो रोजाना अपनी दिनचर्या में 10-15 मिनट फिजिकल एक्टिविटी को दे सकते हैं जैसे यदि आपको डांस करना बहुत अधिक पसंद हो तो आप डांस करें जरूरी नहीं है कि फिजिकल एक्टिविटी सिर्फ जिम या योगा करके ही हो सकती है।

Disclaimer: यह सार्वजनिक रूप से एकत्रित जानकारी है। यदि आपको किसी विशिष्ट सलाह की आवश्यकता है तो कृपया डॉक्टर से परामर्श करें।

Advertisment
Advertisment