पांच बातें जो समाज को एक वर्किंग मॉम से नहीं कहनी चाहिए

Published by
Swati Bundela

वर्किंग मोम होना कोई कमज़ोरी नहीं स्ट्रेंथ होती है। वर्किंग मोम होने का मतलब है कि आप काम और बच्चा साथ में मैनेज कर सकती हैं पर हमारे समाज में आज भी महिलाओं को काम या बच्चे में से एक चुन ने पर मजबूर किया जाता है। समाज के दिमाग पर ये सवार है कि वर्किंग मोम वो महिलाएँ होती हैं जो घर परिवार से ज्यादा करियर से प्यार करतीं हैं पर ये सोच सरासर गलत है और ऐसी कुछ बातें आज में आपको बताउंगी जो आपको एक वर्किंग मोम को कभी भी नहीं बोलनी चाहिए। वर्किंग मॉम से क्या न कहें –

1. बच्चे को दिन भर के लिए कैसे छोड़ सकती हो ?

हमारी आदत होती है कि जो हमारे मन में आता है हम उसे सामने वाले से कह देते हैं पर हमें ऐसी आदत डालने की जरुरत है कि बोलने से पहले हम सोचें कि ऐसा बोलने से सुन ने वाले पर क्या फर्क पढता है। एक स्ट्रांग वीमेन को बार बार सवाल करने से हो सकता है आप वर्किंग मोम का मनोबल तोड़ रहे हों।

2. तुम्हारे लिए करियर ज्यादा जरुरी है ?

जो महिलाएँ काम पर जाती हैं उसका मतलब ये बिलकुल भी नहीं होता कि उनको काम से ज्यादा प्यार है या बच्चे से कम प्यार है। पहली बात तो इन दो चीज़ों का आपस में तुलना करने का कोई मतलब ही नहीं बनता। करियर और बच्चा दो अलग चीज़ें हैं और इनको जोड़ना नहीं चाहिए ।

3. तुम्हारे पास पैसों की कमी है क्या?

जरुरी नहीं होता कि हर चीज़ पैसों के लिए ही की जाए। महिलाएँ काम इसलिए भी करती हैं क्योंकि उन मे इतनी काबिलियत होती है कि वो पैसे कमा सकतीं है अपनी दम पर और उन्हें किसी पर डिपेंड होने की ज़रूरत नहीं है। जॉब करने से अपने आप पर भरोसा बढ़ता है और विमेंस और स्ट्रांग बनती हैं।

4. तुम्हे बच्चा पालना नहीं आता

कुछ महिलाएँ नौकरी इसलिए भी करतीं हैं क्योंकि उनका हस्बैंड नहीं होता या उनको आर्थिक दिक्कते होतीं हैं इसलिए उनको हर मोड़ पर सवाल करने की जगह उनको और बढ़ावा देना चाहिए क्योंकि घर और काम दोनों मैनेज करना कोई आसान बात नहीं होती और हर कोई कर भी नहीं सकता।

5. तुम बच्चे के लिए काम नहीं छोड़ सकती

कई ऐसी महिलाएँ होती हैं जो बच्चा और काम अच्छे से मैनेज कर सकती हैं पर समाज के लोग उन को ऐसी परिस्तिथि में जान पूंछकर डालते हैं जहां वो काम करने की वजह से गलत दिखें और वो उन पर सवाल खड़े कर सकें। वर्किंग मॉम से क्या न कहें 

Recent Posts

लैंडस्लाइड में मां बाप और परिवार को खो चुकी इस लड़की ने 12वीं कक्षा में किया टॉप

इसके बाद गोपीका 11वीं कक्षा में अच्छे मार्क्स नहीं ला पाई थी क्योंकि उस समय…

37 mins ago

जिया खान के निधन के 8 साल बाद सीबीआई कोर्ट करेगी पेंडिंग केस की सुनवाई

बॉलीवुड लेट अभिनेता जिया खान के मामले में सीबीआई कोर्ट 8 साल के बाद पेंडिंग…

1 hour ago

दृष्टि धामी के डिजिटल डेब्यू शो द एम्पायर से उनका फर्स्ट लुक हुआ आउट

नेशनल अवॉर्ड-विनिंग डायरेक्टर निखिल आडवाणी द्वारा बनाई गई, हिस्टोरिकल सीरीज ओटीटी पर रिलीज होगी। यह…

2 hours ago

5 बातें जो काश मेरी माँ ने मुझसे कही होती !

बाते जो मेरी माँ ने मुझसे कही होती : माँ -बेटी का रिश्ता, दुनिया के…

3 hours ago

पूजा हेगड़े ने किया करीना को सपोर्ट सीता के रोल के लिए, कहा करीना लायक हैं

पूजा हेगड़े ने कहा कि करीना ने वही माँगा है जो वो डिज़र्व करती हैं।…

3 hours ago

This website uses cookies.