पाद आना एक साधारण बात है पर जब पाद जरुरत से ज्यादा आए तो ये ध्यान देने वाली बात है। जब आप चार लोगों के बीच बैठकर पाद देते हैं तो वो सबसे शर्मनाक पल होता है। ऐसा हर किसी इंसान के साथ कभी भी कैसे भी हो सकता है। पाद आने के कई कारण होते हैं जैसे की खाना अच्छे ना पचना, उल्टा – सीधा खाने की आदत या अस्वस्थ खाना। पाद आना एक नेचुरल प्रक्रिया होती है जिसे रोकना बहुत मुश्किल होता है। यह हैं पांच कम पाद करने के तरीके। पाद आने को आप कुछ घरेलु नुस्खों की मदद से ठीक कर सकते हैं –

1. सुगरी फ़ूड

शुगर यानि शक्कर वाली चीज़ें खाने से पाद ज्यादा आता है। क्योंकि शुगर को बैक्टीरिया आसानी से और जल्दी तोड़ देते हैं जिस से कि पेट में गैस पैदा होती है। इसलिए आप ध्यान रखें कि आप शक्कर कम खाएं ताकि आपको बार बार शर्मिंदा ना होना पड़े।

2. स्टार्च

कुछ खाने की चीज़ें जैसे की आलू और अनाज इन में स्टार्च भरपूर मैत्रा में होता है। स्टार्च वाली चीज़ें खाने से पेट में गैस अधिक मात्रा में बनती है। अगर आपको गैस सम्बन्धी दिक्कत है और आप बाहर कहीं जा रहे हैं तो ऐसी स्टैच वाली चीज़ें खाना थोड़ा टालके चलें।

3. धूम्रपान

सिगरेट पीने से बॉडी में अधिक मात्रा में पाद बनता है। वैसे तो सिगरेट के कई अन्य नुक्सान भी होते है जैसे की कैंसर का खतरा और फेफड़ों में दिक्कत। सिगरेट पीने से जो पाद बनता है वो फार्ट यानि पाद के ज़रिए बाहर निकलता है। इसलिए पाद कम करने के लिए आप धूम्रपान ना करें।

4. कार्बोहाइड्रेट

शरीर में जब भी कीटाडुओं द्वारा कार्बोहाइड्रेट पचाया जाता है तो कार्बन डाइऑक्साइड बनता है। कार्बोहाइड्रेट के पाद की बदबू भी बहुत बसेली आती है इसलिए अगर आप किसी जरुरी मीटिंग या काम के लिए जाक रहे हैं तो ऐसा कुछ ना खाएं।

5. एंटी-ब्लोटिंग दवाई

ये पेट में हो रही गुड़गुड़ाहट और गैस को बनने से रोकती हैं। ये दवाइयां कब्ज को दूर भगाती हैं जिस से गैस बनने की समस्या नहीं होती है। इसको आप किसी डॉक्टर से लिखवा कर या फिर खुदसे भी आसानी से बाजार से ले सकते हैं।

Email us at connect@shethepeople.tv