महिलाओं में एस्ट्रोजन हार्मोन उनकी सेक्सुअल और रिप्रोडक्टिव ग्रोथ को बढ़ाने में मदद करता है। एस्ट्रोजन औरत और आदमी दोनों में ही होता है लेकिन महिलाओं में इसकी मात्रा थोड़ी ज्यादा होती है। कई बार कुछ कारणों से महिलाओं में एस्ट्रोजन की कमी हो जाती है। तो आइए जानते हैं महिलाओं में एस्ट्रोजन डाइट क्या होती है  ?

फल सब्जी इत्यादि से मिलने वाला एस्ट्रोजन phytoestrogen केहलाता है। इसके भी शरीर पर अलग-अलग असर हो सकते हैं

महिलाओं के लिए एस्ट्रोजन डाइट

1. सोयाबीन

सोयाबीन प्लांट बेस्ट प्रोडक्ट मैं इस्तेमाल किया जाता है जैसे टोफू और टेंप। सोयाबीन एम भरपूर मात्रा में विटामिन प्रोटीन और मिनरल्स होते हैं।

साथ ही सोयाबीन में फाइटोएस्ट्रोजेंस भी होते हैं जोकि महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन की कमी को पूरा करते हैं।

2. ड्राई फ्रूट

ड्राई फ्रूट्स को आप अपनी डाइट में आसानी से मिला सकते हैं और मजेदार तरीके से खा सकते हैं। ड्राई फ्रूट में भरपूर मात्रा में पोषक तत्व और फाइटोएस्ट्रोजेंस होते हैं।

3. लेहसुन

लहसुन को भी लोग बड़ी मात्रा में अपनी सब्जियों और खाद्य पदार्थों पर डालते हैं। गार्लिक (लेहसुन) ना सिर्फ आपक सब्जी को अच्छा टेस्ट देता है बल्कि आपके लिए काफी फायदेमंद भी होता है।

लहसुन में भी भरपूर मात्रा में फाइटोएस्ट्रोजेंस होते हैं जो आपको एस्ट्रोजन की कमी से लड़ने में मदद करेंगे। हालांकि अभी इस पर काफी रिसर्च होना बाकी है।

4. गोभी और उसके सभी प्रकार

गोभी और उसके सभी प्रकार जैसे फूल गोभी पत्ता गोभी बंद गोभी और ब्रोकली इत्यादि में फाइटोएस्ट्रोजन भरपूर मात्रा में होते हैं। महिलाओं को सभी प्रकार की गोभी खानी चाहिए जिसमें से फूल गोभी और ब्रोकली ज्यादा खानी चाहिए।

5. आड़ू

आपने आड़ू का नाम तो सुना ही होगा। आडू हल्के पीले और सफेद रंग के मीठे फल होते हैं जिनकी स्किन काफी मुलायम होती है। आड़ू में विटामिंस और मिनरल्स के साथ-साथ बहुत ज्यादा मात्रा में फाइटोएस्ट्रोजन होते हैं जोकि आपके शरीर में एस्ट्रोजन की कमी पूरी करता है।

तो यह थे वह पांच फल जो आपके शरीर में एस्ट्रोजन की कमी को पूरा करेंगे। याद रखें की इन सभी फलों और सब्जियों का सेवन उचित मात्रा में ही करें।

यह सार्वजनिक रूप से एकत्रित जानकारी है। यदि आपको किसी विशिष्ट सलाह की आवश्यकता है तो कृपया डॉक्टर से परामर्श करें – disclaimer
Email us at connect@shethepeople.tv