साल 2020  के साथ काफी उथल-पुथल वाली यादें जुड़ गई है औऱ केवल एक व्यक्ति के लिए नही बल्कि सबके लिए। कोई भी महीना ऐसा नही बीता जिसमें कोई बड़ा हंगामा ना बरपा हो। कोरोना वायरस के साथ-साथ कई ऐसी घटनाएं भी घटी जो महिलाओं के इर्द-गिर्द घूमती रही।मीडिया और सोशल मीडिया के लोगों ने उन्हें काफी कुछ बोला। लेकिन, काफी महिलाएं अपनी बात आगे रखने से, अपने हक़ के लिए बोलने में बिल्कुल भी नही डरी।

जानिये कौन है वह 5 महिलाएं और उनसे जुड़े विवाद

1. आइशी घोष और दीपिका पादुकोण

जनवरी में दिल्ली के जाने-माने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU ) में कुछ गुंडों ने हमला किया था। इस अटैक में स्टूडेंट यूनियन लीडर आइशी घोष को सिर में गहरी चोट लगी जिसके बाद उन्होंने हिंसा का विरोध करने के लिए एक मीटिंग  बुलाई। इन लोगों का साथ देने के लिए बॉलीवुड के बड़े स्टार्स में से एक दीपिका पादुकोण  सबसे पहले आगे आई और मीटिंग के दौरान JNU कैंपस में मौजूद हुई। दीपिका के इस फैसले को कई लोगो ने उनकी फिल्म ‘छपाक’ की मार्केटिंग स्ट्रेटेजी कहा तो कई लोगो ने बढ़-चढ़ कर दीपिका का साथ दिया। दीपिका के JNU कैंपस से निकलने के तुरंत बाद ही उनकी आइशी घोष के सामने हाथ जोड़कर खड़ी रहने वाली तस्वीर इंटरनेट पर वायरल हो गई।

 

2.गुंजन सक्सेना

धर्मा प्रोडक्शन्स की फ़िल्म ‘गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल’, जिसमें जान्हवी कपूर ने फ़्लाइट लेफ्टिनेंट  गुंजन सक्सेना की मुख्य भूमिका निभाई थी, 12 अगस्त को नेटफ्लिक्स पर रिलीज़ होने के बाद से वायु सेना के लिए एक समस्या बन चुकी थी ।

गुंजन सक्सेना वह है जिन्हें 1999 के कारगिल युद्ध के दौरान युद्ध क्षेत्र में उड़ान भरने वाली पहली भारतीय महिला पायलट “कारगिल गर्ल” के नाम से जाना जाता है ।

इस फिल्म पर भारतीय वायु सेना को और उनके जवानों को नेगेटिव रोल में दिखाने का आरोप लगाया गया था। बात इतनी बढ़ गई की इस फिल्म को बॉयकाट करने की भी बात चल पड़ी। तब गुंजन सक्सेना ने काफी स्ट्रॉग जवाब देते हुए कहा , ”Those were my credentials, my achievements. That is my hard-earned trophy and I will never let anybody with vested interests point a finger at it.”

पढ़िए: कारगिल गर्ल गुंजन सक्सेना के बारे में 10 बातें जो आपको पता होनी चाहिए

3. रिया चक्रवर्ती

इस साल जून में एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत ने जैसे सबको एक घाव सा दे दिया। रिया चक्रवर्ती, उनकी गर्लफ्रेंड, इस घटना के बाद कुछ महीनों तक पूरे देश की दुश्मन की तरह देखी जाने लगी। वह पुरे देश के लोगो के ताने , क्रिटिसिज्म और अपमानों का निशाना बन गई थी। बात यही नही रूकी, उनपर ड्रग स्कैंडल का आरोप भी लगाया गया । मीडिया ने उनकी परिस्थिति को ‘ विच हंट’ (‘witch hunt ) का नाम तक दे दिया था। इन सब के दौरान रिया को कुछ दिनों तक मुंबई में हिरासत में रखा गया और बाद में जमानत पर रिहा कर दिया गया। विद्या बालन, स्वरा भास्कर, शिबानी दांडेकर और साकिब सलीम जैसे कई कलाकारों ने चक्रवर्ती के सपोर्ट में आते दिखे थे।

4. ऋचा चड्ढा

अपने विचारों को खुलकर रखने के लिए जानी जाने वाली ऋचा चड्ढा ने इस साल कई मौकों पर अपनी राय खुलकर रखा। लेकिन सबसे बड़ी बात यह हुई कि फिल्म प्रोड्यूसर अनुराग कश्यप के खिलाफ पायल घोष के #MeToo के आरोपों से जुड़े विवाद के दौरान , ऋचा ने घोष के खिलाफ Rs 1.1 करोड़ का डिफामेशन सूट (defamation suit) दर्ज कर दिया। इसकी वज़ह बताई कि ऋचा को अनुराग के मामलो में घसीटने का और #MeToo का गलत इस्तेमाल करने का । घोष का कहना था की अनुराग ने और कुछ एक्टर्स जैसे चड्ढा और हुमा क़ुरैशी ने उनका यौन उत्पीड़न ( sexual harassment ) किया और उन्हे “false, baseless, indecent and derogatory,” बुलाया । अक्टूबर में, घोष ने बॉम्बे हाई कोर्ट में चड्ढा से माफी मांगी , जिसके बाद पायल के खिलाफ दर्ज डिफामेशन सूट (defamation suit) को बंद कर दिया गया ।

पढ़िए: कौन हैं शकीला? जानिए इस मलयालम स्टार के बारे में जिनकी बायोपिक में हैं ऋचा चड्ढा

5. प्रियंका पॉल और कंगना रनौत

कंगना रनौत उन लोगों में से एक हो गई है जो 2020 में सबसे ज्यादा विवादों का हिस्सा रहें । लेकिन सबसे अलग यह था जब  इलस्ट्रेटर प्रियंका पॉल  ने कंगना को मेंटल हेल्थ पर गलत स्टेटमेंट देने के लिए टारगेट किया। नवंबर में, पॉल ने कंगना के  आरक्षण (Reservation) वाले ट्वीट को गलत बताते हुए एक ट्वीट किया जिसके जवाब में  कंगना ने उन्हें “suicidal, toxic, creepy looking,” तक लिख दिया। काफी लोगों ने कंगना को इसके लिए गलत बताया।

 

Email us at connect@shethepeople.tv