टी एंड सी | गोपनीयता पालिसी

संचालित द्वारा Publive

फ़ीचर्ड ब्लॉग हैल्थ

C-Section के बाद पहली बार सेक्स से पहले इन 5 बातों का रखें ध्यान

C-Section के बाद पहली बार सेक्स से पहले इन 5 बातों का रखें ध्यान
SheThePeople Team

29 Jun 2021

सीज़ेरियन डिलीवरी के बाद बॉडी रिकवरी का प्रोसेस थोड़ा लम्बा होता है इसलिए ऐसे में सेक्स के बारे में सोचना भी कई कपल्स के लिए मुश्किल हो जाता है। लेकिन अगर अपनी परेशानियों को दरकिनार करके आप फिर से सेक्स ट्राई करना चाहते हैं तो कुछ बातें ध्यान में रखना बहुत ज़रूरी है। सीज़ेरियन डिलीवरी में आपके पोस्टपार्टम डिप्रेशन में जाने के चान्सेस बढ़ जाते हैं। ऐसे में आपकी सेक्सुअल लाइफ भी एक स्ट्रगल बन जाती है। इसलिए सीज़ेरियन डिलीवरी के बाद पहली बार सेक्स से पहले इन 5 बातों को ज़रूर ध्यान में रखें:

1. कब कर सकते है आप सेक्स सीज़ेरियन डिलीवरी के बाद?


डिलीवरी के बाद कोई एक्सएक्ट टाइम पीरियड नहीं होता है जब आपकी बॉडी सेक्स के लिए प्रीपयेर हो जाती है। आम तौर पर डिलीवरी के 4 से 6 हफ़्तों के बीच में आप फिर से सेक्सुअल इंटरकोर्स स्टार्ट कर सकते हैं। हो सकता है की आप इस टाइम पीरियड से पहले ही बेटर फील करने लगे लेकिन तभी सेक्स करें जब आप इसके लिए कम्फर्टेबल हों और आपके डॉक्टर ने आपको परमिशन दे दिया हो।

2. कब रिकवर करती हैं आप सीज़ेरियन डिलीवरी से?


सीज़ेरियन सेक्शन के बाद भी आपका यूटेरस कॉन्ट्रैक्ट होता है जिस कारण आपको ब्लीडिंग होती है बीएस अंतर ये होता है की नॉर्मल डिलीवरी वाले पेशेंट्स से आपको ब्लीडिंग थोड़ा कम होगा। आपके सर्विस को ठीक से बंद रहना भी ज़रूरी है सेक्सुअल रिलेशन्स को फिर से स्टार्ट करने के लिए। इस बात का भी ध्यान रखें की जब तक आप पूरी तरह से हील नहीं होती हैं अपने वजाइना में आप टैम्पोन भी इन्सर्ट ना करें।

3. सेक्स से पहले आता है कम्फर्ट


किसी भी तरह से डिलीवरी की जाए, एक बेबी के बाद आपकी ज़िन्दगी बदलती ही है। आपके इनसिशन साइट से स्टीट्चेस एक हफ्ते के अंदर रिमूव कर दिए जाते हैं पर उन्हीं पूरी तरह ठीक होने में 6 हफ्ते लगते ही हैं। कई महिलाओं को सर्जरी के कई महीनों बाद तक भी इनसिशन एरिया में कुछ फीलिंग होती है। 6 हफ्ते बाद भी इस बात का ख्याल रखें की आप ऐसे सेक्स पोसिशन्स ट्राई करें जिसमें आपके एब्डोमेन पर ज़्यादा प्रेशर ना पड़े।

4. कीगल एक्सरसाइज करें


कीगल एक्सरसाइज जितना नॉर्मल डिलीवरी में एफ्फेक्क्टिव है उतना ही वो आपका सीज़ेरियन सेक्शन के बाद भी मदद कर सकता है। आप चाहे तो कीगल्स अपने प्रेगनेंसी के दिनों से ही स्टार्ट कर सकती हैं ताकि जब कभी आप अपनी सेक्स लाइफ को फिर से स्टार्ट करें आपको ज़्यादा पेन से ना गुज़ारना पड़े। एक अच्छे एक्सपर्ट की मदद से अपने पेल्विक फ्लोर के एक्सरसाइजेज को धीर-धीरे ज़रूर स्टार्ट करें।

5. कंट्रासेप्शन का रखे ध्यान


एक बेबी होने के तुरंत बाद आप तुरंत प्रेगनेंसी अफ़्फोर्ड नहीं कर सकती हैं इसलिए इस बात का ध्यान रखें बिना भुले आप कंट्रासेप्शन यूज़ करें। अपने डॉक्टर सेइस बारे में सालाह लें और उनके कहे अनुसार ही अपने लिए सही कंट्रासेप्टिव मेथड चुनें। अगर आप ब्रेस्टफीडिंग करती हैं तो इस बात का भी विशेष ख्याल रखें की आप जो भी कंट्रासेप्शन यूज़ कर रही हैं वो आपके ब्रेस्टफीडिंग में किसी तरह से बाधा ना पहुंचाए।
अनुशंसित लेख