बच्चे जब छोटे होते हैं तो वो हमेशा से माता पिता के साथ सोते हैं जिसके कारण उनकी आदत बन जाती है। इसके बाद वो बड़े होने पर भी अकेले नहीं सो पाते। ऐसे में आप उन्हें एकदम से उनके कमरे में सोने के लिए मजबूर ना करें और उन्हें धीरे धीरे आदत डालें। अकेले सोना इस लिए जरुरी होता है ताकि बच्चे को आत्मा निर्भरता का अहसास हो और वो खुद पर निर्भर बनें। आज हम बात करेंगे कुछ तरकीबों के बारे में से बच्चे को खुद के कमरे में सोने की आदत डालें –

1. सुनाएं कहानी

बच्चे को आप अकेले उनके कमरे में ना छोड़ें और कुछ देर रात को उनके कमरे में ही बैठे। कोशिश करें की आप उन्हें कहानी सुनाएं जिन से उन्हें अच्छा लगने लगे। आप कही तो उन्हें किसी खिलोने जैसे की डॉल या टेडी के साथ सोने की आदत भी डलवा सकती हैं इस से उन्हें एकदम से अकेला महसूस नहीं होगा।

2. सुलाएं अपने कमरे में

आप चाहें तो बच्चे को सीधा उसके कमरे में ना भेजकर कुछ देर बच्चे को अपने कमरे में सुलाएं और इसके बाद उन्हें रात को उनके कमरे में उठाकर सुलादें। आप चाहें तो अपने कमरे में ही दो जगह सोने की व्यवस्था करें ताकि एक जगह आप सोएं और एक जगह आपका बच्चा। जिस से बच्चे को आपके साथ की आदत छूट जाएगी।

3. दिन में ध्यान रखें

आप अपने बच्चे को उसके कमरे का अहसास दिलाएं। बच्चे का सारा सामान उसके कमरे में रखें। खास तौर पर उसका पसंदीदा सामान उसके पास रखें। दिन में भी जब वो सोते हैं तो उनको उनके कमरे में ही सुलाएं। इस से उन्हें जल्दी आदत हो जाएगी। बच्चे के अधिकतर काम जैसे की पढाई और खेलना कूदना। इस से वो जल्द ही अपने आप उनके कमरे में जाने लग जाएंगे और आपकी परेशानी खत्म हो जाएगी।

Email us at connect@shethepeople.tv