धीरे धीरे सभी राज्य में स्कूल खुलने लगे हैं और बच्चों के माता पिता उनकी सेहत को लेकर परेशान हैं। अभी सरकार की तरफ से बच्चों को वैक्सीन देने पर कोई भी साफ़ निर्णय नहीं आया है और वैक्सीन का ट्रायल भी बच्चों के ऊपर नहीं किया गया है। कोरोना संक्रमण के वक़्त भी बच्चों के कोरोना के मामले बहुत कम ही सामने आए थे इसलिए अभी इस पर सब विचार कर रहे हैं। आज हम आपको बताएंगे कि क्या बच्चों को भी लगेगी कोरोना की वैक्सीन –

बच्चों को मानसिक रूप से मजबूत बनाएं

कई बार बच्चे अंदर से बहुत डरे हुए होते है। उनको किसी अपने को खोने का डर रहता है तो कभी वो सोचते हैं की क्या कभी ये COVID 19 खत्म होगा। बच्चे इतने बड़े नहीं होते कि उन्हें दुनियादारी की बातें समझ आएं पर बड़ों का फ़र्ज़ होता है कि वो बच्चों को उनके स्तर पर जाकर सिखाएं। आज पूरे एक साल बाद कोरोना की वैक्सीन बन पायी है और भारत बड़े पैमाने पर कोविद वैक्सीनेशन कार्यक्रम चला रहा है ताकि सभी को जल्दी जल्दी वैक्सीन मिले और सब वापस अपने काम में निष्फिक्र होकर लग पाएं।

पहले से तैयार करें

सब के लिए वैक्सीन लगने अनिवार्य है खास कर कि बच्चे और 50 से ऊपर ऊमरा के लोगों को। वैक्सीन लगवाने से पहले अपने बच्चे को पूरी प्रक्रिया के बारे में समझा दें क्योंकि बच्चे कोरोना को लेकर बहुत डरे हुए हैं। उन्हें हर चीज़ समझाएं जब कहीं लेकर जाएं ताकि वो डरे ना। अगर बच्चा ज्यादा छोटा है तो उनको खेल खेल में सब समझाएं।

एक्सपर्ट का क्या कहना है ?

भारत में हमें जो वैक्सीन लगेगी उसके बीच 4 हफ्ते यानि 28 दिन का अंतर रखने को कहा गया है। आप ये ना सोचें की आपको वैक्सीन लग गयी है तो अब आपको इतिहाद बरतने की जरुरत नहीं है। वैक्सीन लगने के बाद भी आपको सामाजिक दूरी बनाकर रखना है ,हाँथ धोते रहना है और मास्क पहन कर रखना है।

Email us at connect@shethepeople.tv