आजकल के मॉडर्न समय में आर्गेनिक फार्मिंग (organic farming ke fayde) हमारी सेहत के लिए बहुत अच्छी है । आजकल जहाँ हर जगह खाने की हर चीज़ में बहुत ज़्यादा मात्रा में मिलावट होने लग गई हैं वहीं खाने में इस्तेमाल होनेवाले फल और सब्ज़ीयों में भी ढेर सारे केमिकल और इंजेक्शंस लगाए जाते हैं । खाने में पाए जानेवाले हानिकारक केमिकल्स से बचने के लिए आर्गेनिक फार्मिंग एक बहुत आसान और सरल उपाय है । जानिए आर्गेनिक फार्मिंग के फायदे

image

आर्गेनिक फार्मिंग के फायदे (organic farming ke fayde)

आर्गेनिक फार्मिंग (organic farming ke fayde) हमारी सेहत के लिए पूरी तरह से सुरक्षित है । आर्गेनिक फार्मिंग के बहुत सारे फायदे हैं जो हमारे साथ -साथ प्रकृति के लिए भी बहुत फायदेमंद हैं । आइये जानते हैं आर्गेनिक फार्मिंग के फायदे ।

  1. आर्गेनिक फार्मिंग से प्रदूषण कम होता है।
  2. आर्गेनिक फार्मिंग पानी को बचाने में भी बहुत मददगार है ।
  3. इससे सॉइल इरोजन भी कम होता हैं।
  4. आर्गेनिक फार्मिंग सॉइल को फर्टाइल बनाने में भी बहुत बड़ी भूमिका निभाती है और इससे एनर्जी का भी कम इस्तेमाल होता है ।
  5. आर्गेनिक फार्मिंग में पेस्टीसाइड्स का इस्तेमाल बिलकुल भी नहीं होता है । पेस्टीसाइड्स के बिना खेती आस-पास के पक्षियों और जानवरों के साथ-साथ खेतों के करीब रहने वाले लोगों के लिए भी बेहतर है।
  6. आर्गेनिक फार्मिंग (organic farming ke fayde) बहुत सारे तरीकों से हम सब की सेहत के लिए बहुत बढ़िया है ।

आर्गेनिक फार्मिंग – एक अनोखा खज़ाना

आर्गेनिक फॉर्मिंग बहुत ही प्राकृतिक और अनोखा तरीका है अपने खाने -पीने का ध्यान रखने का । आर्गेनिक फार्मिंग हम आजकल कहीं भी बहुत आसानी से भी कर सकते है वो भी सोलर एनर्जी की मदद से । इससे हम अपने गहरा पर भी कर सकते हैं और अपन परिवार के साथ बहुत ही पौष्टिक खाना खा सकते है । आजकल के इस मिलावट के समय में जहाँ आर्गेनिक फार्मिंग में हम अपने लिए शुद केमिकल रहित सब्ज़ियां उगा सकते हैं वहीँ इन सब्ज़ीयों से हम घर पर बहुत सारी चीज़े बनाकर तैयार कर सकते हैं । जैसे की सॉसेस , जैम्स, आचार और आजकल के डाइट के हिसाब से स्वादिष्ट व्यंजन जो हम चुटकियों में खुद अपने घर पर ही बना सकते हैं और  मिलवट के ज़हर से खुद को और अपने परिवारों को बचा सकता हैं ।

“इन दिनों अपने खुद के लिए आर्गेनिक फ्रूट्स ,हर्ब्स और सब्जियों को उगाना बेहद ज़रूरी है क्योंकि बाजार से खरीदे गए प्रोडक्ट्स में  हानिकारक केमिकल्स बेस्ड फर्टिलाइज़र्स और पेस्टिसाइड्स का इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा, खुद के द्वारा उगाये गए आर्गेनिक प्रोडक्ट्स अधिक ताजा और स्वादिष्ट होते हैं। जो भी आर्गेनिक प्रोडक्ट्स उपलब्ध हैं, हम उन प्रोडक्ट्स की ऑथेंटिसिटी (authenticity) पर भरोसा नहीं कर सकते हैं और वो बहुत महंगे भी होते हैं।” – कहती हैं घर की टेरेस पर आर्गेनिक फार्मिंग करने वाली दीपाली शहलोत

पढ़िए : “आर्गेनिक फार्मिंग के लिए आपको धैर्य, जुनून और अच्छा ज्ञान चाहिए”- दीपाली शहलोत

Email us at connect@shethepeople.tv