बादाम एक ऐसी फ़ूड आइटम है जिसके बहुत सारे फायदे होते हैं। अक्सर हमारी नानी या दादी हमे बादाम खाने की सलाह दिया करती है क्योंकि इस छोटे से बादाम में ढेरों फायदे होते हैं इस बात को शायद सभी लोग जानते हैं और तकरीबन सभी इसे जागरूक लोगों ने अपनी डाइट में भी शामिल किया होगा। खाने में क्रंची और प्रोटीन से भरपूर बादाम में फाइबर और ओमेगा 3 होता है। टेस्ट के साथ हेल्थ के लिए में भी भरपूर बहुत लोगों का पसंदीदा ड्राइफ्रूट है। पर लोगों के बीच इसको लेकर कंफ्यूजन है कि भीगे हुए बादाम ज्यादा फायदेमंद होते हैं या फिर सूखे हुए बादाम खाना ज्यादा फायदेमंद होता है। आज हम बात करेंगे बादाम भिगो कर खाने के बारे में।

बादाम को पूरी रात पानी में भिगो कर खाने के बहुत सारे फायदे हैं, लेकिन अगर आप इन्हें 5-6 घंटे के लिए भिगो कर रखेंगे तो यह ठीक रहता है।  सूखे हुए बादाम के मुकाबले भीगे हुए बादाम ज्यादा हेल्दी होते हैं, क्योंकि यह खाने में ज्यादा मुलायम और पचाने में आसान होते हैं। भीगे हुए बादाम से बॉडी न्यूटरिशन ज्यादा जल्दी ग्रहण करता है। इसी के साथ अगर बादाम  को उसके छिलके के बिना खाया जाता है तो यह काफी बेहतर रहता है, क्योंकि बाहरी छिलके में एक एंजाइम अवरोधक होता है। यह डाइजेस्टिव प्रोसेस को इफ़ेक्ट कर सकता है। एक व्यक्ति को एक दिन में करीब 8-10 बादाम खाने चाहिए।

सूखे हुए बादाम के मुकाबले भिगे हुए बादाम एंजाइम रिलीज करने में मदद करते हैं, जो कि डाइजेशन के लिए अच्छे होते हैं। बादाम सबसे हेल्दी मिड-मील स्नैक्स होते हैं। बादाम के अंदर मोनोसैचुरेटेड फैट्स मौजूद होते हैं जो कि भूख पर रोक लगाते हैं और पेट को भरा हुआ रखते हैं। इसके साथ आप वजन बढ़ने पर भी रोक लगा सकते हैं।

कोलेस्ट्रॉल को कण्ट्रोल करता है

यह बात सच है कि भीगे हुए बादाम खाने से दिल हेल्दी रहता है और बैड कोलेस्ट्रॉल से राहत मिलती है और गुड कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है।

वेट लोस में मदद करते हैं

भीगे हुए बादाम खाने से इसें मौजूद विटामिन ई एक एंटीऑक्सीडेंट के रूप में काम करते है। बादाम में मौजूद यह न्यूट्रिएंट्स उम्र और सूजन को रोकते है जो कि फ्री रेडिकल से होता है।

न्यूट्रिएंट्स से भरपूर होते हैं

बादाम एक ऐसा फ़ूड आइटम है जिसमें अनगिनत न्यूट्रिएंट्स होते हैं।  विटामिन्स से लेकर फाइबर तक इसमें इतने सारे न्यूट्रिएंट्स हैं जो हमारी हेल्थ के लिए काफी फायदेमंद होते हैं।

डाइजेशन इम्प्रूव करता है

सूखे हुए बादाम की तुलना में भीगे हुए बादाम ज्यादा नरम और पचने में आसान हो जाता हैं। इसमें बहुत सारे न्यूट्रिएंट्स होते हैं जिसके कारण यह डाइजेशन को स्ट्रांग बनाते हैं।

Email us at connect@shethepeople.tv