हमारे समाज के लोग और साथ ही कुछ महिलाएं लड़कियों को उनके शरीर के बारें में ऐसा-ऐसी बातें बोलते हैं जिनके कोई मायनें नही होते या वो झूठ होते हैं। जी हां। आईये हम आपको बताते हैं ऐसे कुछ 5 बातों के बारे में जो महिलाओं को सच कहकर बताई जाती हैं पर असल में होती हैं झूठ। जानिए बॉडी से जुड़े झूठ –

पहला झूठ – आपके पीरियड्स आपको impure करते हैं।

बहुत  सारे लोग इन बातों में विश्वास करते हैं। क्योंकि जो लोग ये बात बोलते हैं वो अक्सर हमारे करीबी, परिवार वाले, दोस्त, टीचर्स होते हैं। काफी लोगों का मानना होता है कि महावारी वाली लड़कियों कों मंदिर नही जाना चाहिए पूजा करने, किचन में नही जाना चाहिए, आचार को नही छूना चाहिए। यहां तक की कुछ लोग लड़कियों को उन दिनों में सबसे अलग दूसरे रूम में रहने को, सोने को कहते हैं। लेकिन, लोगों को बताना की पीरियड्स में कुछ खराबी या गंदा नही लड़कियों की ज़िम्मेदारी है। पीरियड्स केवल नेचुरल प्रोसेस ही नही बल्कि एक खूबसूरत प्रोसेस है जो इस दुनिया के आगे बढ़ते रहने के लिए बेहद ज़रूरी है।

दूसरा झूठ- वर्जिनिटी

जी, ये भी वजाइना के ब्लड से ही जुड़ा है। ऐसा झूठ जिसमें शादी से पहले सेक्स को शर्मनाक माना जाता है और वर्जिनिटी को सम्मान और गर्व की तरह देखा जाता है। ऐसा कहा जाता है और समाज के बहुत बड़े तबके द्वारा इसे स्वीकार भी किया जाता है कि अगर शादी के बाद सेक्स करने पर वजाइना से ब्लड आता है तो बहुत अच्छा है लेकिन अगर नही आता तो लड़की के साथ ज़रूर कुछ गलत है। लेकिन ज़रूरी है कि लोग सम्मान और इज्जत को जितना जल्दी हो सके उतना जल्दी सेक्स से जोड़ना बंद करें। बहुत सी लड़कियों को पहली बार सेक्स करने पे ब्लीडिंग होती है लेकिन काफी को नही होती। इसका मतलब ये नही कि इसके लिए उन्हें बेइज्जत किया जाए और उनके करेक्टर पर सवाल उठाया जाए।

तीसरा झूठ- प्यूबिक हेयर गंदे होते हैं।

बहुत से लोगों को प्यूबिक हेयर बिल्कुल पसंद नही होते।

लेकिन प्यूबिक हेयर का होना कोई गलत या गंदी बात नही है। वो हमारी त्वचा की सुरक्षा के लिए ही होते है। अगर कोई प्यूबिक हेयर रखना चाहता है तो वे उनकी चॉईस है।

चौथा झूठ- फेयर स्किन डार्क स्किन से अच्छी होती है।

हर किसी के लाईफ में ऐसी एक आंटी ज़रूर होती है जो फेयर स्किन के फायदें और डार्क स्किन के नुक्सान बताती रहती हैं। जो हर बार यही कहती हैं कि गोरा होना कितना ज़रूरी है वरना शादी में और लड़का ढूंढने में परेशानी होगी। और इसी टेंशन में आकर कई लड़कियां ट्रीटमेंट करवाना और नई-नई तरह की क्रीम लगाना शुरू कर देती हैं। लेकिन इससे ज्यादा ज़रूरी है कि लड़कियां अपने स्किन कलर पर प्राउड फील करें, शर्माएं ना और खुद को एक्सेप्ट करें।

पांचवा झूठ- मास्टरबेशन करना गंदी बात है।

यह झूठ एक तरह से महिलाओं को उनके शरीर से दूर करने का तरीका है। मास्टरबेशन करना कोई गलत बात नही है। ये पूरा आपकी चॉईस पर निर्भर करता है।

पढ़िये- क्या आपको Good Girl Syndrome है ?

Email us at connect@shethepeople.tv