Irregular periods से हैं परेशान? जानिए पीरियड्स समय से ना होने के कारण

Irregular periods से हैं परेशान? जानिए पीरियड्स समय से ना होने के कारण Irregular periods से हैं परेशान? जानिए पीरियड्स समय से ना होने के कारण

SheThePeople Team

09 Aug 2021


पीरियड्स समय से ना होने के कारण  - Irregular periods महिलाओं में होने वाली एक कॉमन प्रॉब्लम है। लेकिन अगर ये समस्या लगातार बनी हुई हो तो इसे नज़रअंदाज़ करना ठीक नहीं है। आमतौर पर पीरियड्स हर महीने 3-5 दिन का होता है और इसके नेक्स्ट साइकिल अगले 28 से 32 दिनों के बाद फिर शुरू होती है। लेकिन कुछ महिलाओं में Irregular पीरियड्स के कारण ये साइकिल में ज्यादा वक़्त लगता है।अगर ऐसी कोई भी अनियमितता नज़र आती है तो तुरंत अपने गायनकोलॉजिस्ट से मिलना सही रहेगा। साथ ही Irregular periods होने के कुछ कारण भी होते हैं जिनको जान लेने से कुछ मदद मिलेगी -पीरियड्स समय से ना होने के कारण 

मोटापे का होता है असर पीरियड्स समय से ना होने के कारण 

वजन बढ़ने और मोटापे का सीधा असर हमारे पीरियड्स पर दिखाई देता है। जंक फ़ूड और ज्यादा तेल वाली ताली भुनी चीज़े कहते रहने से हमारे वजन में तेज़ी से इजाफा होता है, जिसके लिए हमारी बॉडी तैयार नहीं होती। इस सब से स्त्री रोगों की समस्या ज्यादा सामने आती हैं। ऐसी स्थिति में एक्सरसाइज करना और संतुलित डाइट लेना अच्छा होता है। जितना जल्दी वजन काम होता पीरियड्स की प्रॉब्लम से छुटकारा मिलेगा।

लम्बी बीमारी या तनाव है कारण

कई महिलाओं में देखा गया है कि लम्बे समय से चल रही बीमारी के कारण उनके पीरियड्स में अनियमितता आजाती है। ऐसा इसीलिए होता है क्योंकि बीमारी के दौरान अगल अलग तरह की दवाइयों का सेवन किया जाता है जिससे हमारे बॉडी के होर्मोस डिस्बैलेंस हो जाते हैं। बॉडी में इतने changes का असर कही न कहीं तो हमारे पीरियड्स पर दिखता ही है।इसके अल्वा तनाव भी बहुत इम्पोर्टेन्ट फैक्टर है जिससे periods irregularity बढ़ जाती है। आज कल के भागदौड़ भाई जिंदगी में स्ट्रेस तो होता ही है लेकिन वो स्ट्रेस जब तनाव बन जाये तो ये चिंता की बात है।

Routine में हुए बदलाव

आजकल की भागदौड़ भरी ज़िन्दगी में लोग अपनी सेहत का ख्याल रखना तो भूल ही जाते हैं।अपने शरीर की चिंता उन्हें तब सताती है जब वे बीमार पड़ते हैं।लेकिन ऐसा करना बिल्कुक भी सही नहीं है। कहीं घूमने गए हों?या नयी नौकरी लगी हो या सोने के और उठने की समय में बड़ा चेंज आया हो? नियमित दिनचर्या के ये मेजर changes पीरियड्स को irregular कर देते हैं। ऐसे में बदलाव के कुछ समय बाद पीरियड्स नार्मल हो जाते हैं अगर ऐसा न हो तो अपने डॉक्टर से सलाह लेना न भूलें।

Thyroid हो सकती है वजह  पीरियड्स समय से ना होने के कारण पीरियड्स समय से ना होने के कारण

थाइरोइड जैसी गंभीर बीमार अपनेआप में चिंताजनक है। नियमित पीरियड्स के लिए वजन कम होना जरुरी है और थाइरोइड में वजन में इजाफा होने लगता है।महिलाओं में irregular पीरियड्स की एक बड़ी वजह सामने आयी है थाइराइड। अगर आपको थाइराइड सम्बंधित समस्या है तो पीरियड्स को समय पर लेन के लिए डॉक्टर से सम्पर्क करें और सही दवाइयों को लें। पीरियड्स समय से ना होने के कारण पीरियड्स समय से ना होने के कारण

बर्थ कण्ट्रोल पिल्स या हार्मोनल दवाइयां 

कई बार पीरियड्स irregular होने कि एक बड़ी वजह में बर्थ कण्ट्रोल पिल्स और अन्य हार्मोनल पिल्स होती हैं। ये दवाइयां आमतौर पर किसी पर्टिकुलर हॉर्मोन कि कमी को पूरा करने या उसे stimulate करने में मददगार होती हैं। हॉर्मोन्स के इस कहे से हमारी बॉडी में आये changes पीरियड्स की अनियमितता के कारण हो सकते है। इसीलिए जितना हो सके बर्थ कण्ट्रोल पिल्स को अवॉयड करें। इनके रेगुलर या जयादा इस्तेमाल से कभी पीरियड्स कभी कम, तो कभी कभी बहुत ज्यादा और जल्दी जल्दी आने लगते हैं , कभी कभी तो लम्बे समय के लिए बंद हो जाते हैं। ऐसे सिचुएशन में डॉक्टर से कंसल्ट करना ठीक रहता हैं।पीरियड्स समय से ना होने के कारण

 


 


 


 

 





अनुशंसित लेख