कोविड वैक्सिन के लगे 10 मिलियन टीके : भारत अब 10 मिलियन से अधिक COVID-19 वैक्सीन की खुराक देने वाला दूसरा सबसे तेज देश बन गया है। यह मुकाम भारत ने सिर्फ 34 दिनों में हासिल किया है। अमेरिका ने ये उपलब्धि करीब 31 दिनों में हासिल की, जबकि यूनाइटेड किंगडम ने इस निशान को पार करने के लिए 56 दिन बिताएं।

image

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि “सुबह 8 बजे तक की रिपोर्ट के अनुसार, 2,11,462 सेशन्स के माध्यम से कुल 1,01,88,007 वैक्सीन खुराक दी गई है। इनमें 62,60,242 HCW (पहली खुराक), 6,10,899 HCW (दूसरी खुराक) और 33,16,866 FLW (पहली खुराक) शामिल हैं।” (कोविड वैक्सिन के लगे 10 मिलियन टीके)

भारत ने 28 दिनों के ब्रेक के बाद 13 फरवरी से COVID-19 वैक्सीन की दूसरी खुराक देना शुरू कर दिया है। 2 फरवरी से फ्रंटलाइन वर्कर्स का टीकाकरण भी शुरू कर दिया गया है।

कोविड वैक्सिन के 10 मिलियन टीके लगाए गए (Covid Vaccine)

आठ राज्यों में COVID-19 वैक्सीन खुराक का 57.47 प्रतिशत लौगों को दिया गया है। सात राज्यों में दूसरी वैक्सीन खुराक का 60.85 प्रतिशत लोगों को लगा दिया गया है।

सरकार ने यह भी बताया कि पिछले 24 घंटों में COVID-19 के कारण कुल 16 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में एक भी मौत नही हुई है। (कोविड वैक्सिन के लगे 10 मिलियन टीके)

हालांकि, महाराष्ट्र में COVID-19 की स्थिति गंभीर हो गई है, और शिवसेना सरकार ने अमरावती जिले में रविवार को लॉकडाउन की घोषणा की है। यदि स्थिति में सुधार नहीं होता है तो मुंबई लॉकडाउन मोड में भी जा सकता है। केरल और पंजाब भी COVID-19 मामलों की संख्या में बढ़ोत्तरी देखी जा रही है। भारत ने केवल 6 दिनों में COVID-19 के 1 मिलियन टीके लगाएं है, जो सबसे तेज वेक्सिनेटेड करने वाला देश बना है। (कोविड वैक्सिन के लगे 10 मिलियन टीके)

महाराष्ट्र सरकार ने बढ़ते COVID-19 मामलों के कारण अमरावती और यवतमाल जिलों पर प्रतिबंध लगा दिया है। अमरावती पर एक सख्त तालाबंदी बहाल की गई है और यवतमाल पर अभी इतनी सख्ती नही की गई है। लॉकडाउन शनिवार को रात 8 बजे से शुरू होगा और सोमवार सुबह तक जारी रहेगा। (कोविड वैक्सिन के लगे 10 मिलियन टीके)

Email us at connect@shethepeople.tv