गरम हवा के नुक़सान  – अप्रैल का महीना आ चुका है और गर्मी का मौसम भी अपने तेवर दिखा रहा है। इस मौसम में हमें अपना व अपने शरीर का विशेष ध्यान रखने की जरूरत है। गर्मियों के मौसम में टेम्परेचर बहुत बड़ जाता है जो कि हमारे शरीर को बहुत नुक़सान पहुँचता है। इस मौसम में बहुत गरम हवाएं चलती हैं और गर्मियों में कई जगह पर लू (हीट वेव) भी बहुत चलती है। गर्मी के मौसम में हमारे शरीर में पानी की कमी बहुत होती है जिससे की हमें व हमारे शरीर को बहुत सारी परेशानियों से गुज़रना पड़ सकता है।

गर्मियों में हमें ज्यादा से ज्यादा पानी व तरल पदार्थ पीना चाहिए जिससे की हमारी शरीर की पानी की जरूरत पूरी हो सके। इस मौसम में हमें विशेष रूप से चलने वाली गरम हवाएं व लू से अपने आप को बचाने जरूरत की है। गरम हवा व लू से हमें कई सारे नुक़सान है जिनके बारे में हम आगे बात करेंगे।

1) बीपी हाई होना

गरम हवाओं के संपर्क में ज्यादा समय रहने से हमारे शरीर का तापमान तेज़ी से बड़ता है जिससे की ब्लड प्रेशर भी बड़ जाता है। ब्लड प्रेशर बड़ने से हमें कई सारी शारीरिक समस्याओं से झूझना पड़ सकता है।

2) डिहाइड्रेशन होना

तापमान बड़ने से शरीर में पानी की कमी आसानी से हो जाती है गरम हवाएं व लू इसके प्रमुख कारण हैं। इसीलिए हमें यह ध्यान रखना चाहिए कि जब भी हम अपने घरों से या ऑफिस से धूप में बाहर निकलें तो खूब सारा पानी पी कर निकलें जिससे कि हम डिहाइड्रेशन होने से हमारे शरीर को बचा सकते हैं।

3) ब्रेन स्ट्रोक का खतरा

अगर आप ज्यादा समय गरम हवाओं व लू के बीच रहते हैं तो इससे आपके शरीर का तापमान बहुत अधिक बड़ सकता है जिससे कि ब्रेन स्ट्रोक की संभावनाएं बहुत बड़ जाती हैं। इसलिए ज्यादा देर धूप में व गरम हवाओं के बीच रहने से हमें बचना चाहिए।

4) डाइजेशन ख़राब होना

गरम हवाओं और लू के कारण जब हमारे शरीर का टेम्परेचर अधिक बड़ जाता है तो इसका सीधा असर हमारे पेट पर पड़ता है और हमारे पेट के अंदर का टेम्परेचर भी नार्मल से अधिक हो जाता है जिससे की हमें डाइजेशन से जुडी कई सारी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए हमें गर्मियों में न ही धूप में ज्यादा बाहर निकलना चाहिए और न ही ज्यादा मसाले व तेल का खाना चाहिए।

गर्मियों में दोपहर के वक़्त 1 बजे से लेकर 5 बजे तक बहुत गरम हवाएं व लू चलती है जिसकी वजह से हमें कई सारी परशानियों से गुज़रना पड़ सकता है। इसीलिए हमारे लिए यही ज्यादा बेहतर होगा कि इस समय हम कोशिश करें कि कम से कम बाहर निकलें।

Email us at connect@shethepeople.tv