Diet Plan After Cesarean Delivery: सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिलाओं का डाइट प्लान क्या होना चाहिए?

Diet Plan After Cesarean Delivery: सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिलाओं का डाइट प्लान क्या होना चाहिए? Diet Plan After Cesarean Delivery: सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिलाओं का डाइट प्लान क्या होना चाहिए?

SheThePeople Team

27 Sep 2021


Diet Plan After Cesarean Delivery:  प्रेगनेंसी के नौ महीनों के बाद सबसे मुश्किल घड़ी होती है डिलीवरी। आज के समय में नॉर्मल डिलीवरी की जगह सिजेरियन डिलीवरी ज्यादातर की जाती है। कई स्थितियों में महिलाओं को नॉर्मल डिलीवरी की बजाय सी सेक्‍शन ऑपरेशन करवाना पड़ता है। सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिलाओं को कही परेशानियों का सामना करना पड़ता अपने स्वास्थ को लेकर इसलिए इसके बाद महिला का पौष्टिक आहार खाना बहुत ही जरूरी माना जाता है।

सी-सेक्शन डिलीवरी के बाद पौष्टिक आहार मां को ऊर्जा देगा और पेट की दीवार और यूटरस को जल्दी ठीक करने में मदद करता है। महिलाएं अक्सर ये सवाल करती हैं कि सिजेरियन डिलीवरी के बाद उनकी डाइट केसी होनी चाहिए। वैसे तो दोनों प्रकार की डिलीवरी के बाद पौष्टिक आहार का सेवन करना चाहिए लेकिन सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिला के खानपान पर ज्यादा ध्यान देना जरूरी होता है क्युकी ऑपरेशन के बाद शरीर कमजोर पड़ जाता है। 

आपको यहां बताई जा रही हैं चीज़े जिनका सेवन करना मां की सेहत और शरीर के लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है लेकिन उसे पहले आपको ये बता दिया जाए कि हमेशा डिलीवरी के बाद हल्का खाना खाना चाहिए ताकि उसके पाचन में ज्यादा समय और ऊर्जा ना लगे और आपके पेट के जख्म पर दबाव ना डले।

सिजेरियन डिलीवरी के बाद क्या खाना चाहिए: Diet Plan After Cesarean Delivery 


1. ब्राउन राइस 

सिजेरियन डिलीवरी के बाद कहीं महिलाओं का वजन बढ़ने लगता है इसलिए ऐसा भोजन खाना चाहिए जिसमें कार्बोहाइड्रेट्स कम होते हैं। ब्राउन राइस में सफेद चावल की जगह कम कार्बोहाइड्रेट्स होते हैं को की वजन घटाने में मदद करता है। ब्राउन राइस मां को एनर्जी देता है जो ब्रेस्ट मिल्क के प्रोडक्शन को बनाए रखने में मदद करता है। 

2. दाल 

ऑपरेशन के बाद ज्यादातर लोग दालों पर जोर देते हैं क्युकी दाल में प्रोटीन, फाइबर, मिनरल काफी मात्रा में होती है। अगर आप अकेली दाल का सेवन करते हैं तो उसे पूरा मिल भी कहा जाता है क्युकी दाल से आपको काफी ताकत मिलती है और फेट को बने नहीं देता। डिलीवरी के बाद प्रोटीन युक्त भोजन और आहार करना चाहिए ताकि शरीर रिकवर जल्दी कर पाए। 

3. हल्दी 

हल्दी कई तरह के रोगों से रक्षा करती है। हल्दी में एंटीबैक्टीरियल गुण होते है इसीलिए काफी तरीको में लाभदायी साबित होती है। सिजेरियन डिलीवरी के बाद शरीर के अंदरूनी घाव को ठीक करने के लिए हल्दी का सेवन करना बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है। मां को सोने से पहले हल्दी वाला दूध दे सकते हैं। 

4. हरी सब्जी

हरी सब्जियों का सेवन करना चाहिए जब भी कोई व्यक्ति बीमार, या कमजोरी मेहसूस कर रहा हो इसका कारण है की हरी सब्जियों में काफी मात्रा में प्रोटीन, विटामिन्स, आयरन, फाइबर और कैल्शियम होता है। हरी सब्जियों एंटीऑक्सिडेंट्स की तरह हमारें शरीर में काम करती हैं। हरी सब्जियों का सेवन करने से शरीर को ताकत मिलती है और वज़न बढ़ने का खतरा भी कम हो जाता है। हरी सब्जियों में आयरन होता है जो खून को दुबारा बनाने में मदद करता है इसलिए डिलीवरी के बाद महिलाओं को हरी सब्जियों का सेवन जरूर करना चाहिए। 

5. फल 

विटामिन - C टिशूज को बढ़ाने में मदद करता है और टिशूज को रिपेयर भी करता है। मां को सिजेरियन डिलीवरी के बाद संतरे, तरबूज, स्ट्रॉबेरी और अंगूर जैसे फलों का भी सेवन करना चाहिए जिसमें विटामिन - C अच्छी मात्रा में होता है जो इम्यूनिटी को मजबूत करने और इन्फेक्शन से लड़ने में मदद करते हैं। 


अनुशंसित लेख