हर गृहणी जब अपनी रसोई में खाना बनाती है तो वो यही भावना रखती है की जब उसका परिवार यह खाना खाये तो सब स्वस्थ रहें और खुशहाल रहें ।  हर गृहिणी अपनी रसोई में बहुत से शुद्ध मसाले और तेल इस्तेमाल करते हैं जिससे उनके बच्चों को कोई नुक्सान न हो । क्या हम जानते हैं की खाने में रिफाइंड आयल इस्तेमाल करने के कितने नुक्सान हैं । रिफाइंड आयल बहुत सी खतरनाक बीमारियों के लिए ज़िम्मेदार होता है । एक डेली रूटीन पर रिफाइंड आयल खाने से हम कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से पीड़ित हो सकते हैं ।

image

आजकल की गृहणियाँ अपनी रसोई में घी का इस्तेमाल  बहुत ही कम करती हैं क्योंकि  उन्हें लगता है घी मोटापा बढ़ाता है पर ऐसा नहीं है जो सेहत का खज़ाना घी के पास है वो किसी के पास नहीं है । हर घर की रसोई में घी एक बहुत ज़रूरी रोल निभाता है । घी सिर्फ हमारे खाने में ही नहीं बल्कि हमारे शरीर के हर पार्ट के लिए बहुत ज़रूरी है । आइये आज शीदपीपल टीवी पर हम जानेंगे घी के नुस्खे जो हमारे शरीर के लिए बहुत ज़रूरी हैं।

घी कैंसर पैदा करने वाले एजेंटों को पैदा होने नहीं देता

हाई टेम्परेचर पर, बहुत सारे आयल फ्री रैडिकल्स  में बदल जाते हैं। शरीर में फ्री रेडिकल्स की ज़्यादा अमाउंट से कैंसर सेल्स खत्म हो सकते है। घी लगभग 500 ° F पर गरम हो जाताहै, इसलिए यह फ्राइंग और बाकी कुकिंग एक्टिविटीज़ के इस्तेमाल के लिए बहुत अच्छा है।

घी में बहुत ज़्यादा एंटीऑक्सिडेंट होते है

एंटीऑक्सिडेंट शरीर के लिए बहुत ज़रूरी तरीके से काम करते हैं। उन सेल्स और टिश्यू डैमेज को रोकने में घी मदद करता है जो हमे इम्मयूनिटी देते हैं ।  घी में विटामिन ई होता है, जो हमारे खाने में पाए जाने वाले सबसे शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट में से एक है।

घी ड्राई स्किन और बालों को मॉइस्चराइज करने में मदद करता है

सिर्फ खाना पकाने के लिए घी का उपयोग नहीं किया जाता है यह लंबे समय से भारतीय महिलाओं द्वारा एक घरेलु मॉइस्चराइजर के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है । हमारे सर पर घी लगाने से हमे फ्रेशनेस और मेन्टल पीस भी मिलता है । घी से हमारे बाल लम्बे, शाइनी और घने बनते हैं ।

घी में हार्ट के लिए हैल्थी फैट्स होते हैं

जबकि घी में बहुत से फैट्स होते है, यह मोनोअनसैचुरेटेड ओमेगा -3 एस में बहुत हाई होता है। ये वही फैटी एसिड हैं जो सैल्मन जैसे खाद्य पदार्थों में पाए जाते हैं जिन्हें स्वस्थ हृदय और हृदय प्रणाली को बढ़ावा देने के लिए खोजा गया है। भारत के एक ग्रामीण क्षेत्र में पुरुषों पर किए गए एक रिसर्च में पाया गया है कि जो लोग घी का अधिक मात्रा में सेवन करते हैं उन्हें कोरोनरी हार्ट प्रॉब्लम नहीं होती है  और सीरम कोलेस्ट्रॉल के लेवल में भी बॉडी में कमी आती है।

घी हमारे शरीर के लिए पावरहाउस है।

घी में बहुत ज़्यादा अमाउंट में विटामिन ए, डी, ई और के की भरपूर मात्रा होती है। घी हमारी बॉडी से लेकर इम्म्यूनसिस्टम तक के लिए बहुत ज़रूरी होता हैं। इसके अलावा, घी हमारी बॉडी में फैट सोल्युबले मिनरल्स और विटामिन्स को डाइजेस्ट करने में मदद करता है ।

पर आप इस बात का ध्यान रखें कि ज़्यादा घी आपकी सेहत के लिए हानिकारक है

Email us at connect@shethepeople.tv