पीरियड में हाइजीन मेन्टेन कैसे करें ? कुछ बातें जिनका पीरियड हाइजीन के ख्याल रखना ज़रूरी है

Swati Bundela
07 Aug 2021
पीरियड में हाइजीन मेन्टेन कैसे करें ? कुछ बातें जिनका पीरियड हाइजीन के ख्याल रखना ज़रूरी है


पीरियड में हाइजीन मेन्टेन करना बहुत आवशयक है। हर महीने लड़कियों और महिलाओ को पीरियड होते है, जिसका दर्द बहुत असहनीय होता है। कुछ ख़ास बातों का ख्याल रखना बहुत ज़रूर है जिससे हमारी सेहत ठीक रहे। 2014 में हुई एक स्टडी एक अनुसार भारत में 42 % को सैनिटरी पैड्स और पीरियड्स हाइजीन के बारे में कोई जानकारी नहीं है क्युकी उनके पास नार्मल टॉयलेट तक सुविधा नहीं है जिनको कुछ पता भी है वह पीरियड्स के बारे में बात करने से शर्मिंदा महसूस करती है और इसपर खुलकर बात करने से कतराती है। पीरियड में हाइजीन मेन्टेन करने के हमे जमीनी स्तर पर जाकर पीरियड के विषय पर खुलकर बात करने की आवश्कयता है |





पीरियड में हाइजीन मेन्टेन करने के तरीके





पीरियड में हाइजीन मेन्टेन करने के लिए हर 4 घंटे बाद पैड्स बदले ताकि जलन और यूरिनरी इन्फेक्शन्स ना हो |

अच्छे से खुदको वाश करें जिससे वॅजाइन्अ बैक्टीरिया के चान्सेस कम हो | 

हाइजीन मेन्टेन करने के लिए साफ़ अंडरवियर पहने |

पीरियड के दौरान  वॅजाइन्अ में साबुन या किसी हाइजीन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल ना करें क्युकी ये सब प्रोडक्ट्स नेचुरल प्रोसेस में बाधा डाल सकते है जिससे इन्फेक्शन का खतरा बढ़ जाता है |

पैड्स को इस्तेमाल करने का बाद अच्छी तरह से उसको डिस्कार्ड करें ताकि बैक्टीरिया ना फैले।

टेम्पोंस का 8 घंटे या उससे से ज़्यदा इस्तेमाल करने से इन्फेक्शन के चान्सेस बढ़ जाते है, पीरियड में हाइजीन मेन्टेन करने के लिए उसे ४ घंटे में चेंज करना आवश्यक है।

 


Read The Next Article