महिलाओं के ऊपर घरेलू हिंसा को कैसे रोका जा सक्त है?

Published by
Shruti Warbhe

How To Stop Domestic Violence? आपका साथी माफी मांगता है और कहता है कि यह व्यवहार फिर से नहीं होगा- लेकिन आपको डर है कि ऐसा होगा। कभी-कभी आप सोचते हैं कि क्या आप दुर्व्यवहार की कल्पना कर रहे हैं, फिर भी आप जो इमोशनल या शारीरिक दर्द महसूस कर रहे हैं वह वास्तविक है। यदि ऐसा महसूस होता है, तो आप घरेलू हिंसा का अनुभव कर रहे होंगे। यदि आप खुद से पूछ रहे हैं कि आप मदद के लिए क्या कर सकते हैं, तो पढ़ें।

कैसे घरेलु हिंसा को रोका जा सकता है? (How To Stop Domestic Violence?)

1. शिक्षा

शिक्षा आपको घरेलू हिंसा को रोकने, महिलाओं के अधिकारों के बारे में सीखने में मदद कर सकता है। यह आपको यह भी पता लगाने देगा कि दुर्व्यवहार करने वाली महिला या पुरुष की मदद कैसे करें, दूसरों के बीच में। ऐसा इसलिए है क्योंकि कम पढ़े-लिखे लोग एकनॉमिकाली रूप से कम नॉलेज रखते हैं और ऐसे में क्या सही है क्या गलत है नहीं पता होता है।  इस प्रकार, किसी भी लिंग के खिलाफ हिंसा को रोकने के लिए शिक्षा सबसे ज़रूरी तरीकों में से एक है।

2. इसे अनदेखा न करें

घरेलु हिंसा सहना और उसे अनदेखा करना सबसे बड़ा गुनाह तो यही है। जो गरेलु हिंसा कर रहा है  उसकी पुलिस को खबर देनी चाहिए। पलिस अधिकारी बार-बार गवाहों से एक ही बात सुनते हैं- मैंने घरेलू हिंसा सुनी/ देखी/ महसूस की लेकिन इसमें शामिल नहीं होना चाहता था। यदि आप अपने पड़ोसियों को हिंसक स्थिति में लिप्त सुनते हैं, तो पुलिस को फोन करें। यह एक जीवन बचा सकता है।

3. सहनशीलता

एक दम अच्छा इंसान तो इस दुनिया में कोई है ही नहीं। रिश्ते को जारी रखने के लिए, दोनों पक्षों को एक दूसरे की सुननी चाहिए और एक-दूसरे की खामियों को सहन करना सीखना चाहिए। जब सहनशीलता होती है, तो घर में शायद ही कभी हिंसा होती है।

4. सहमति प्राप्त करें

घरेलू हिंसा को रोकने के लिए, दोनों भागीदारों को कुछ कार्य करने से पहले एक-दूसरे की सहमति प्राप्त करनी चाहिए, जैसे, यौन संबंध बनाना। हर किसी को दूसरों के साथ सही व्यवहार करना सीखना चाहिए और यह समझना चाहिए कि मैरिटल रपे और जबरदस्ती महिलाओं के अधिकारों या पुरुषों के अधिकारों का उल्लंघन हो सकता है। हालांकि ऐसी धारणा है कि महिलाएं हमेशा यौन शोषण का शिकार होती है।

5. जेंडर इक्वलिटी को बढ़ावा देना

वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन (डब्ल्यूएचओ) ने नोट किया है कि “जेंडर इनक्वॉलिटी महिलाओं के खिलाफ घरेलु हिंसा बढ़ाता है और इससे बचने के लिए महिलाओं के अंदर इतनी क्षमता नहीं होती। घरेलू हिंसा की रोकथाम के लिए, समाज को कई तरीको से रोकना पड़ेगा। उसके लिए सबसे पहले महिला और पुरुष को एक दूसरे का सम्मान करना होगा, इसके साथ दोनों लिंगमें कोई बड़ा या छोटा नहीं ह ये जागरूकता फैलानी होगी।

6. प्यार और स्नेह दिखाएं

विवाह और रिश्ते बहुत चुनौतीपूर्ण हो सकते हैं। आंशिक रूप से यही कारण है कि पूरी दुनिया में तलाक के मामलों की दर बहुत अधिक है। हालाँकि, जहाँ यह इच्छा है, वहाँ एक रास्ता अवश्य होगा। एक दूसरे के प्रति प्रेम और सच्चे स्नेह से घरेलू हिंसा जैसी चुनौतियों से निपटा जा सकता है

Recent Posts

Marital Rape: बंद गेट के पीछे का सेक्सुअल वायलेंस हम इंग्नोर नहीं कर सकते हैं

एक महिला के लिए तब आवाज उठाना बहुत मुश्किल होता है जब रेप करने वाला…

14 hours ago

Ram Mandir Saree: उत्तर प्रदेश के चुनाव से पहले साड़ी पर मोदी, योगी और राम मंदिर हुए वायरल

अहमदाबाद के एक पत्रकार ने वीडियो शेयर की थी जिस में अयोध्या के थीम पर…

19 hours ago

Loop Lapeta Online Release: क्या आप लूप लपेटा फिल्म ऑनलाइन देखने का इंतज़ार कर रहे हैं? जानिए जरुरी बातें

तापसी पन्नू हमेशा से ऐसी फिल्में लेकर आती हैं जो कि महिलाओं को हमेशा एक…

20 hours ago

मुलायम सिंह की बहु BJP में शामिल हुई, अखिलेश यादव की बात पर कहा “राष्ट्र धर्म” सबसे ऊपर है

अपर्णा का कहना है कि उनको बीजेपी की नीतियां और काम करने का तरीका बेहद…

21 hours ago

अपर्णा यादव कौन हैं? मुलायम सिंह की छोटी बहु ने बीजेपी ज्वाइन की

अपर्णा यादव की शादी मुलायम सिंह के छोटे बेटे प्रतीक यादव की बहु है। इन्होंने…

21 hours ago

Gehraiyaan Trailer Release Date: दीपिका पादुकोण की गहराइयाँ फिल्म का ट्रेलर कब होगा रिलीज़

दीपिका ने बताया है कि कैसे डायरेक्टर बत्रा और संजय लीला भंसाली स्क्रिप्ट में और…

22 hours ago

This website uses cookies.