हैवी पीरियड्स को नज़रअंदाज़ करना पड़ सकता है भारी, जाने क्या हैं इसके खतरे

Published by
Apurva Dubey

हैवी पीरियड्स के खतरे: आमतौर पर महिलाएं पीरियड्स के दौरान ज्यादा दर्द और हैवी ब्लड फ्लो को नार्मल समझ कर, उसे नज़र अंदाज़ कर देती हैं। बचपन से ही लड़कियों को समझाया जाता है कि पीरियड्स में दर्द आम बात है और ब्लड फ्लो तो कभी ज्यादा कभी कम होता रहता है। लेकिन ये जरुरी नहीं कि सभी लक्षण एक नार्मल पीरियड्स के हों। कई बार महिलाओं में पीरियड्स में हैवी ब्लड फ्लो से काफी सारा खून वेस्ट हो जाता हैं और इस बात का पता भी नहीं चलता कि हमारी बॉडी किसी खतरे का संकेत दे रहीं हैं। इसीलिए हैवी पीरियड्स को हलके में न लेकर, तुरंत डॉक्टर से कंसल्ट करना बेहतर होता है- 

हैवी पीरियड्स के खतरे: कही आप आनेवाले खतरे को नज़रअंदाज़ तो नहीं कर रहीं

कभी-कभी हम जिन लक्षणों को आम समझकर नजरअंदाज कर देते हैं वो हमारे लिए जानलेवा भी हो सकते हैं। इस बात का सबूत इंग्लैंड कि एक 19 वर्षीय लड़की कि समस्या जान कर पता लगाया जा सकता है। 19 साल कि कैथरीन को हैवी पीरियड्स की समस्या थी। उसकी ये समस्या दिन-ब-दिन बढ़ते ही जा रहीं थी। जब कैथरीन ने डॉक्टर से होने प्रॉब्लम शेयर की, तो तमाम रिपोर्ट्स और जांच के बाद पता चला कि कैथरीन का हैवी पीरियड्स एक्यूट प्रोमायलोसाइटिक ल्यूकेमिया (APL) का लक्षण था।

हैवी पीरियड्स से बढ़ जाता है ल्यूकेमिया का खतरा

दरअसल, हैवी पीरियड्स को नार्मल समझ कर कई महिलाएं ल्यूकेमिया जैसी खतरनाक बीमारी की चपेट में आ जाती हैं। ऐसे में डॉक्टर्स यही सलाह देते हैं कि हैवी पीरियड्स को कभी भी नज़रअंदाज़ नहीं करना चाहिए। ऐसी स्तिथि में हॉस्पिटल में एडमिट होने तक के चांस होते हैं। शरीर से ज्यादा ब्लड का लॉस होने से कई तरह की बीमारियां होने का खतरा भी बढ़ जाता है। 

एक्यूट प्रोमायलोसाइटिक ल्यूकेमिया भी हैवी ब्लड लॉस के कारण होता है। इसमें बोन मेरो से ज्यादा अमाउंट में सफ़ेद रक्त कोशिकाएं यानि वाईट ब्लड सेल्स बनने लगती हैं। हैवी पीरियड्स से प्लेटलेट्स की कमी पड़ जाती है। जब रेड ब्लड सेल्स की कमी होती है तो बॉडी को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन की सप्लाई नहीं हो पाती। ऐसी स्तिथि में अगर पीरियड्स के दौरान हैवी ब्लड फ्लो हो और साथ ही थकान, सुस्ती, स्किन इर्रिटेशन या नाक व जबड़ों से खून आने की समस्या हो तो तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क करें। ये एक्यूट प्रोमायलोसाइटिक ल्यूकेमिया के लक्षण हो सकते हैं। 

Recent Posts

जमीन विवाद में महिला का बड़ा कदम, खुद को गाड़ा जमीन में और पुलिस पर भी लगाए आरोप

कई दिनों से भूमाफियों ने महिला की जमीन पर गैरकानूनी तरीके से अपना आधिपत्य बना…

38 seconds ago

Food For Brain: दिमाग को तेज़ करने के लिए क्या खाना चाहिए?

यह आपके दिल की धड़कन और फेफड़ों को सांस लेने और आपको चलने, महसूस करने…

16 hours ago

Career After Marriage? क्या महिलाओं का शादी के बाद करियर के बारे में सोचना गलत है?

शादी के बाद करियर की ओर जाने के लिए महिलाओं को मना किया जाता है।…

16 hours ago

Pfizer Vaccine 90% Effective For Children: फाइजर ने कहा कोरोना वैक्सीन बच्चों पर 90% से भी ज्यादा असरदार है

बच्चों के लिए कोरोना की वैक्सीन का काफी लम्बे समय से इंतज़ार हो रहा था।…

16 hours ago

Ananya Pandey Denies Drug Allegations: अनन्या पांडेय ने आर्यन खान को ड्रग देने की बात न मंजूर की

कल NCB ने एक ही समय पर दो टीम बनाकर मन्नत और अनन्या के घर…

18 hours ago

This website uses cookies.