कोविड वैक्‍सीन की पहली ड्राईव के लिए भारत सरकार द्वारा सोमवार को गाइडलाइंस ज़ारी कर दी गई है। करीब 30 करोड़ लोगों को पहली ड्राईव में कोरोना वैक्सिन दी जाने की तैयारी की गई है। पहली ड्राईव में जिन लोगों को वैक्सिन दी जाएगी उनमें मुख्य रूप से हेल्थकेयर वर्कर्स, 50 से ज्यादा उम्र वाले लोग और फ्रंटलाइन वर्कर्स शामिल होंगे। आइये, हम आपको भारत सरकार की पहली कोविड वैक्सिनेशन की पहली ड्राईव के बारे में और भी कुछ ज़रूरी बातें बताते हैं।

1. एक डिजिटल प्लेटफॉर्म ‘Covid Vaccine Intelligence Network (Co-WIN)’के नाम से तैयार किया जाएगा जहां लोग वैक्सिनेशन के लिए खुद को रज़िस्टर कर पाएंगें। ये साइट उन लोगों का डाटा भी रखेगा जिसने एक बार वैक्‍सीन ले लिया है।

2.Co-WIN पर खुद को रज़िस्टर करने के लिए आपको अपना Identity डॉक्यूमंट अपलोड करना होगा जैसे वोटर कार्ड, आधार कार्ड और ड्राइवर लाइसेंस।

3.जिन्होनें Co-WIN पर खुद को पहले से रज़िस्टर किया है केवल वही वैक्‍सीन ले पाएंगें। इसके अलावा और कोई रास्ता नही है वैक्‍सीन पाने का। और रज़िस्टरेशन भी पहले कराना होगा, ऑन-द-स्पॉट रज़िस्टरेशन मान्य नही है।

4.एक बार में या एक सेशन में केवल 100 लोगों को ही वैक्सिनेट किया जाएगा। अगर किसी जगह पर सारी सुविधाएं उपलब्ध है, ज्यादा भीड़ को मेनेज करने के लिए जगह है और ज्यादा डॉक्टर्स हैं तो वहां वैक्सिनेशन का दूसरा सेशन भी चलाया जा सकता है। इस तरह से एक बार में 200 लोगों को वैक्सिनेट किया जा सकता है।

5. हर वैक्सिनेशन टीम में 5-5 लोग होंगें।

6. हर एक व्यक्ति को वैक्‍सीन लगाने के बाद 30 मिनट तक ऑबसर्व किया जाएगा, यह तय करने के लिए कि वैक्सिन का असर ठीक से हुआ है।

7.केंद्र सरकार ने हर डिस्ट्रिक्ट में वैक्‍सीन कैंप लगाने को कहा है ताकि एक ही जगह पर ज्यादा भीड़ इक्ट्ठी ना हो और वेक्सिनेशन का काम अच्छे से हो जाएं।

8.राज्य सरकारों को ये ऑर्डर दिया गया है कि वैक्सिनेशन के बारें में लोगों से अच्छे से कम्यूनिकेशन बैठाया जाए। जिससे सारी सूचना, और वैक्सिनेशन प्रोसेस से जुड़ी सारी बातें उन तक पहुंच पाएं।

9.केंद्र सरकार के तरफ से यह भी कहा गया है कि वैक्‍सीन की शीशी को तब तक बंद रखें जब तक किसी को वैक्सिनेट ना होना है। किसी भी व्यक्ति को वैक्‍सीन लगाते वक्त ही उसकी शीशी खोलकर उसे प्रयोग करना होगा। साथ ही, किसी को भी ज़बरदस्ती वैक्सिनेट नही किया जाएगा। जब तक व्यक्ति खुद रज़िस्टर करके अपनी रज़ामंदी से वैक्‍सीन लगवाने नही आता तब तक उसे वैक्‍सीन नही लगाई जाएगी।

10. वैक्‍सीन को sunlight proof कंटेनर्स में रखा जाएगा।

पढ़िए- किताब पढ़ना दूर कर सकती है Covid – 19 का स्ट्रेस

Email us at connect@shethepeople.tv